नई दिल्ली : भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने एशिया कप में पाकिस्तान पर आठ विकेट से मिली एकतरफा जीत का श्रेय गेंदबाजों को देते हुए बुधवार को कहा कि टीम हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ कल के मैच से मिले सबक से सीख लेकर सुधार करने में सफल रही. हॉन्ग कॉन्ग ने पहले मैच में भारत को जीत के लिये कड़ा संघर्ष कराया लेकिन भारत ने पाकिस्तान को 126 गेंदें शेष रहते हुए आसानी से आठ विकेट से हराया. पाकिस्तानी टीम 162 रन पर ढेर हो गयी और भारत ने 29 ओवरों में आसानी से लक्ष्य हासिल कर दिया. Also Read - अर्थ आवर डे: कोरोना वायरस के कारण घर में बंद लोगों से रोहित शर्मा ने की खास अपील

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘शुरू से ही हमने अनुशासित प्रदर्शन किया. हम कल की गलतियों से सीख लेना चाहते थे. हमारे गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया. हम रणनीति पर कायम रहे और इस तरह के धीमे विकेट के लिये जो रणनीति बनायी थी उस पर पूरी तरह से अमल किया.’’ Also Read - WATCH: टीम इंडिया के 'गब्बर' ने बॉक्सिंग में आजमाए हाथ, इस नन्हे बॉक्सर के सामने खुद को बचाते नजर आए

VIDEO: रोहित शर्मा का विस्फोटक अर्धशतक, देखें कैसे शादाब की गेंद पर गंवा बैठे विकेट Also Read - पापा से नाराज हुए जोरावर, शिखर धवन से पूछा- मेरे बालों के साथ कौन से खेल खेला गया है ?

उन्होंने कहा, ‘‘स्पिनरों ने कसी हुई गेंदबाजी की लेकिन शुरू में पहले दो विकेट हासिल करना महत्वपूर्ण था. शुरू में विकेट लेना अहम था क्योंकि उनकी बल्लेबाजी अच्छी है. इसलिए हम उनके लिये चीजें आसान नहीं बनाना चाहते थे. जब बाबर आजम और शोएब मलिक बल्लेबाजी कर रहे थे तब भी हमने धैर्य नहीं खोया.’’

रोहित ने केदार जाधव की भी तारीफ की जिन्होंने तीन विकेट लिये. उन्होंने कहा, ‘‘केदार अपनी गेंदबाजी पर काम कर रहा है और अपनी गेंदबाजी को गंभीरता से ले रहा है. उसने जो विकेट लिये वे हमारे लिये बोनस जैसे थे. विशेषकर हार्दिक पंड्या के चोटिल होने के बाद बीच में उसके ओवर महत्वपूर्ण थे.’’

VIDEO: शिखर धवन को भारी पड़ी छोटी गलती, देखें कैसे फहीम अशरफ की गेंद पर गंवाया विकेट

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने कहा कि पहले पांच ओवरों में ही दो विकेट गंवाना उनकी टीम पर भारी पड़ा. उन्होंने हार के लिये बल्लेबाजों को जिम्मेदार ठहराया. सरफराज ने कहा, ‘‘हमारी शुरुआत अच्छी नहीं रही. हमने पहले पांच ओवरों में दो विकेट गंवाये और इसके बाद भी नियमित अंतराल में विकेट गंवाते रहे और मैच में वापसी नहीं कर सके. आप कह सकते हो कि हमने खराब बल्लेबाजी की.’’

उन्होंने कहा, ‘‘बाबर आजम को छोड़कर हमने आसानी से विकेट गंवाये. इसलिए हमें देखना होगा कि भविष्य में कैसी बल्लेबाजी करनी है. हमने दो स्पिनरों के लिये तैयारी की थी लेकिन तीसरे स्पिनर (जाधव) ने हमारे विकेट निकाले. सुपर फोर से पहले यह आंखे खोलने वाला मैच रहा.’’ पाकिस्तान की सलामी जोड़ी सहित तीन विकेट लेने वाले भुवनेश्वर कुमार को मैन आफ द मैच चुना गया.