हैमिल्‍टन टी20 (Hamilton T20I) में भारतीय टीम ने सलामी बल्‍लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की सुपर ओवर (Super Over) में शानदार बल्‍लेबाजी के दम पर न्‍यूजीलैंड के खिलाफ (India vs New Zealand) जीत दर्ज की. सुपर ओवर की आखिरी दो गेंद पर भारत को जीत के लिए 10 रन की दरकार थी. रोहित ने दो छक्‍के लगाकर जीत सुनिश्चित की. मैच के बाद रोहित ने कहा कि उन्‍होंने इससे पहले कभी सुपर ओवर में बल्‍लेबाजी नहीं की थी.

पढ़ें:- IND vs NZ: सुपर ओवर के हाई वोल्‍टेज ड्रामा के बाद जीता भारत, सीरीज पर 3-0 से कब्‍जा

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा, “मैंने इससे पहले कभी सुपर ओवर में बल्‍लेबाजी नहीं की थी. मुझे नहीं पता था कि सुपर ओवर में किस तरह से बल्‍लेबाजी की जानी चाहिए. क्‍या पहली ही गेंद से बड़े शॉट लगाने चाहिए या शुरुआत में केवल सिंगल-डबल लेने चाहिए. आखिरी की तीन चार गेंद पर हमारे ऊपर काफी दबाव आ गया था.”

आखिरी दो गेंदों पर छक्‍का लगाने के बारे में रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा, “मैं खुद को सही और सटीक रखते हुए गेंदबाज द्वारा गलती करने का इंतजार कर रहा था. बल्‍लेबाजी के लिए पिच काफी अच्‍छी थी. मैं केवल खुद को स्थिर रखते हुए यह जानने का प्रयास कर रहा था कि आखिरी मैं क्‍या कर सकता हूं.”

पढ़ें:- रोहित ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में पूरे किए 10 हजार रन, तोड़ा सुनील गावस्‍कर का रिकॉर्ड

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने मैच में छह चौके और तीन छक्‍कों की मदद से 40 गेंद पर 65 रन की पारी खेली. उन्‍होंने कहा, “बल्‍लेबाजी के दौरान मेरी परफॉर्मेंस काफी अच्‍छी रही. अपनी विकेट आसनी से यूं ही दे देने के कारण मैं खुद से थोड़ा नाराज जरूर था. मैं कुछ देर और बल्‍लेबाजी कर सकता था.”

पढ़ें:- U-19 WC 2020: कौन हैं कार्तिक त्‍यागी जिसने हारे हुए मैच में जान फूंककर भारत को SF में पहुंचाया

“मैंने पिछले दो मैचों में रन नहीं बनाए थे इसलिए मैं शांत रहते हुए बल्‍लेबाजी करना चाहता था. हमें पता था कि अगर हम आज का मैच जीत गए तो सीरीज भी जीत जाएंगे. हमारे लिए यह महत्‍वपूर्ण मैच था. ऐसे में मुख्‍य खिलाड़ियों को आगे आकर रन बनाने की जरूरत थी.”