नई दिल्ली. व्हाइट बॉल क्रिकेट में रोहित शर्मा की बल्लेबाजी का तोड़ नहीं है. उनकी बल्लेबाजी पिक अप पकड़ती तो है धीरे-धीरे लेकिन जब पकड़ लेती हैं तो विरोधी गेंदबाजों की नींद हराम कर देती है. झमाझम बारिश की तरह छक्के बरसते हैं और गोली की रफ्तार से चौके निकलते हैं. क्रिकेट के शॉर्टर फॉर्मेट में जहां बाकी बल्लेबाज शतक जड़कर ही खुश होते हैं, रोहित शर्मा को दोहरा शतक जमाए चैन नहीं मिलता है. अपनी इसी आदत को रोहित न्यूजीलैंड के खिलाफ हैमिल्टन में खेले जाने वाले सीरीज के चौथे वनडे में भी अमलीजामा पहनाना चाहते हैं. हालांकि, ये दोहरा शतक कुछ अलग होगा क्योंकि इसकी स्क्रिप्ट रोहित अपने बल्ले से नहीं लिखेंगे.

200वां वनडे खेलेंगे रोहित

न्यूजीलैंड के खिलाफ चौथे वनडे में रोहित जो दोहरा शतक लगाने वाले हैं, उसके लिए उन्हें न तो बल्ला उठाना पड़ेगा और न ही ज्यादा इंतजार करना पड़ेगा. ये दोहरा शतक रोहित के टीम इंडिया की जर्सी में हैमिल्टन के मैदान पर उतरते ही पूरा हो जाएगा. दरअसल, हैमिल्टन में रोहित अपने वनडे करियर का 200वां मुकाबला खेलेंगे. वनडे क्रिकेट में इस मुकाम तक रोहित से पहले 79 क्रिकेटर पहुंच चुके हैं लेकिन वो बात किसी और की नहीं रही जो रोहित शर्मा की रही.

गांगुली और गावस्कर ने मचाया शुभमन गिल का ‘शोर’, कहा- ‘मौका दो, फिर देखो जोर’

वनडे में जमा चुके हैं 3 दोहरे शतक

रोहित शर्मा अपने करियर का 200वां वनडे खेलने से पहले क्रिकेट के इस फॉर्मेट में सबसे ज्यादा 3 दोहरे शतक जमा चुके हैं, जिनमें 264 रन का सबसे बड़ा स्कोर भी शामिल है, जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ जड़ा था. रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ एक और दोहरा शतक जमाया, जिसमें उन्होंने नाबाद 208 रन बनाए थे. रोहित ने वनडे में अपने दोहरे शतक के सफर की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 209 रन की पारी खेलकर की थी.

2013 से खतरनाक हो गए हैं रोहित

रोहित के 200वें वनडे तक पहुंचने के सफर को अगर 2 पार्ट में देखें तो 2012 तक जहां 86 वनडे में उनका औसत 30.43 का ही था और सिर्फ 2 शतक के साथ उनके बल्ले से 1978 रन ही निकले थे. वहीं 2013 से अब तक 113 वनडे खेलने के बाद उनका औसत 60.01 का है, शतक 20 हैं और रन 5821 हैं. पिछले 8 सालों से लगातार टीम इंडिया के लिए खेली सबसे बड़ी वनडे पारी पर रोहित का नाम लिखा जा रहा है.

बतौर कप्तान खेलेंगे 200वां वनडे

विराट कोहली के आराम पर जाने के बाद न्यूजीलैंड दौरे पर अब टीम इंडिया की कमान रोहित शर्मा के हाथों में होगी. मतलब ये कि रोहित अपना 200वां वनडे बतौर कप्तान खेलने उतरेंगे. खास बात ये है कि रोहित की कप्तानी का उनकी बल्लेबाजी का असर नहीं दिखता. बतौर कप्तान खेले 8 वनडे में रोहित ने 106.8 की औसत से 534 रन बनाए हैं, 2 शतक के साथ. बहरहाल, इन दिलचस्प आंकड़ों के साथ सबकी निगाहें हैमिल्टन वनडे में 31 साल के धाकड़ बल्लेबाज रोहित शर्मा पर जमीं होंगी. बड़ा सवाल वही रहेगा क्या रोहित अपने 200वें वनडे पर भारतीय क्रिकेट फैंस को दोहरे शतक का तोहफा देंगे?