भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक ओपनर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) और ‘वेरी वेरी स्पेशल’ लक्ष्मण (VVS Laxman) ने ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा (Rohit Sharma) से जुड़े मुद्दे को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) द्वारा हैंडल करने के तरीके पर हैरानी जताई है। आईपीएल 2020 में रोहित को हैम्स्ट्रिंग में चोट लग गई थी जिसकी वजह से उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे पर लिमिटेड ओवर्स टीम में नहीं चुना गया था। टेस्ट सीरीज में भी उनके खेलने पर संदेह है। Also Read - ऑस्ट्रेलिया के सफल दौरे से लौटे मोहम्मद सिराज ने खरीदी बीएमडब्ल्यू कार

पहले वनडे की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि टीम को रोहित की स्थिति के बारे में किसी तरह की जानकारी नहीं है। Also Read - ऑलराउंडर की भूमिका में रवींद्र जडेजा का आगे बढ़ना भारत के लिए बहुत बड़ा बोनस: भरत अरुण

गंभीर ने स्टार स्पोट्स के शो पर कहा, ‘यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है.. क्योंकि वह कप्तान हैं। कोहली मीडिया में जाते हैं और कहते हैं कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। शायद इस पूरे मामले में तीन सबसे अहम लोग फिजियो, मुख्य कोच, चयन समिति के अध्यक्ष हैं। इसलिए इन सभी लोगों को एक ही मंच पर होना चाहिए और आपके मुख्य कोच को विराट कोहली को जानकारी देनी चाहिए थी। आप प्रेस कॉन्फ्रेंस में जाकर यह कहते हो कि आपको जानकारी नहीं है, यह बेहद निरााशजनक है क्योंकि रोहित अहम खिलाड़ी हैं। साथ ही यहां अच्छा समन्वय और संयोजन हो सकता था जो दिख नहीं रहा है।’ Also Read - कोच रवि शास्त्री ने कहा- ऑस्ट्रेलिया दौरे की खोज हैं मोहम्मद सिराज

वहीं 27 नवंबर को बीसीसीआई ने एक बयान जारी कर कहा था कि रोहित इस समय राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में हैं और वह टेस्ट सीरीज में हिस्सा ले पाते हैं या नहीं इस पर फैसला उनकी आने वाली जांचों पर निर्भर करेगा।

लक्ष्मण ने जताई हैरानी 

लक्ष्मण ने कहा, ‘मुझे लगता है कि रोहित को चुना जाना चाहिए था। यह जो कम्यूनिकेशन गैप है या निराशाजनक है।’पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘मैं हैरान हूं क्योंकि इस माहौल में जब आपके पास कई सारे व्हॉट्सएप ग्रुप, ऐसे में एक ग्रुप मेल होता है जो सभी पर जाता है। मैं इस बात को लेकर आश्वास्त हूं कि टीम प्रबंधन और चयन समिति के चेयरमैन और बीसीसीआई की मेडिकल टीम का एक ग्रुप होगा।’

लक्ष्मण ने कहा कि दो सीनियर खिलाड़ी आपस में यह मामला सुलझा सकते थे। उन्होंने कहा, ‘आमतौर पर, टीम प्रबंधन को हर तरह की जानकारी दी जाती है और हर किसी को लूप में रखा जाता है। इसलिए मुझे समझ नहीं आता कि यह गैप कैसे हुआ। जहां तक इस मामले की बात है तो यह दो सीनियर खिलाड़ियों का मसला है।’