नई दिल्ली : मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने विश्व कप से पहले खिलाड़ियों के कार्यभार प्रबंधन को लेकर उठ रहे सवालों को खारिज करते हुए शनिवार को कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) बड़े टूर्नामेंट से पहले खुद को आंकने का मौका देता है.

रविवार को खेले जाने वाले आईपीएल फाइनल से पहले मीडिया से मुखातिब हुए रोहित ने कहा कि लगभग दो महीने तक चले टूर्नामेंट में उन्होंने हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ियों को अपना कार्यभार खुद तय करने के लिए छोड़ दिया था.

रोहित ने कहा, ‘‘हमने टूर्नामेंट की शुरुआत में कहा था कि हम हर खिलाड़ी का आकलन करेंगे और देखेंगे कि टूर्नामेंट में आगे बढ़ने के दौरान वे अपने शरीर के बारे में कैसा महसूस करते हैं. यह उनके लिए व्यक्तिगत चीज की तरह है.’’

IPL 2019: ऑरेंज कैप ले जायेंगे वॉर्नर, पर्पल के लिए इन दो खिलाड़ियों के बीच जंग

उन्होंने कहा कि आईपीएल ने हार्दिक पांड्या को लय में आने में मदद की. भारतीय टीम के उपकप्तान ने कहा, ‘‘किसी भी खिलाड़ी के लिए लय में होना जरूरी है. मुझे लगता है कि आईपीएल खेलने के बाद एक बड़े टूर्नामेंट (जैसे विश्व कप) में जाने पर फायदा होगा. यह लय हासिल करने का शानदार टूर्नामेंट है. हार्दिक इसका एक उदाहरण है.’’