भारतीय टीम के नए सिक्सर किंग रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का कहना है कि लंबे छक्के लगाने के किए ताकतवर शरीर की जरूरत नहीं होती है। राजकोट टी20 में जीत हासिल करने के बाद रोहित ने युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) की मशहूर ‘चहल टीवी’ के दौरान ये बात कही।

रोहित ने कहा, “छक्के मारे के लिए डोले-शोले नहीं चाहिए। आप (चहल) भी छक्के मार सकते हैं। छक्के मारने के लिए केवल ताकत नहीं चाहिए होती है बल्कि टाइमिंग भी चाहिए होती है। गेंद बल्ले के बीच में लगनी चाहिए और आपका सिर स्थिर होना चाहिए। छक्के मारने के लिए बहुत सारी चीजों का ध्यान रखना होता है।”

बता दें कि रोहित पिछले तीन साल (2017, 2018, 2019) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बने हुए हैं।

रोहित शर्मा: हाथ में बल्ला होने पर हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश की

बांग्लादेश के खिलाफ राजकोट टी20 में भारतीय टीम की कप्तानी कर रहे रोहित ने मैच विनिंग अर्धशतक जड़ा था। रोहित ने मात्र 43 गेंदो पर छह छक्कों और छह चौकों की मदद से 85 रन की पारी खेली। पारी के दौरान तीन छक्के तो रोहित ने एक ही ओवर में जड़ दिए।

युवराज सिंह के 6 गेंद 6 छक्के के रिकॉर्ड को दोहराना चाहते थे रोहित

रोहित ने 10वां ओवर कराने आए मोसादेक होसैन की पहली तीन गेंदो पर लगातार तीन छक्के जड़े। हालांकि रोहित छह गेंदो पर छह छक्के लगाना चाहते थे। उन्होंने कहा, “कोशिश थी मेरी कि 6 छक्के लगाऊंगा लेकिन जब चौथी गेंद पर मिस हो गया तो मैंने सोचा की अगली दो गेंदो पर सिंगल ही लूंगा।”