नई दिल्ली : कप्तान विराट कोहली और एबी डिविलियर्स के बेहतरीन अर्धशतकों की मदद से रायल चैलेंजर्स बैंगलोर ने चिन्नास्वामी स्टेडियम में असली रंग बिखेरते हुए कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ आईपीएल मैच में शुक्रवार को यहां तीन विकेट पर 205 रन का बड़ा स्कोर बनाया. कोहली ने 49 गेंदों पर नौ चौकों और दो छक्कों की मदद से 84 रन बनाये जबकि डिविलियर्स ने 32 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली जिसमें पांच चौके और चार छक्के शामिल हैं. इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिये 108 रन जोड़े. मार्कस स्टोइनिस ने आखिर में 13 गेंदों पर नाबाद 28 रन बनाकर स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया. Also Read - India vs Australia: रोहित की चोट पर बोले Virat Kohli- हमें अभी तक कुछ क्लियर नहीं

किसी भी प्रारूप में पिछली छह पारियों में 50 रन तक पहुंचने में नाकाम रहे कोहली आज शुरू से अपने असली रंग में दिखे. प्रसिद्ध कृष्णा पर लगाये गये लगातार चौके हों या लॉकी फर्गुसन के ओवर में तीन बाद गेंद को सीमा रेखा तक पहुंचाना, उनके सभी शॉट दर्शनीय थे. कोहली ने पार्थिव पटेल (24 गेंदों पर 25) के साथ पहले विकेट के लिये 64 रन की साझेदारी की. Also Read - IND vs AUS: इस बार मैदान में दर्शकों की भी होगी वापसी, Virat Kohli को आउट करना होगा मुश्किल

बैंगलोर ने पहले चार ओवर में 41 रन बनाये थे लेकिन इसके बाद स्पिन त्रिमूर्ति पीयूष चावला, सुनील नारायण और कुलदीप यादव ने रन गति पर अंकुश लगाया. बीच में एक ओवर के लिये नितीश राणा ने भी गेंद संभाली और पार्थिव को पगबाधा आउट किया. Also Read - India vs Australia: पहले वनडे से पहले Virat Kohli ने दिखाया दम, खूब उड़ा रहे चौके-छक्के, देखें VIDEO

कोहली ने खेली रिकॉर्ड ब्रेकर पारी, ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी

लेकिन जब कोहली और डिविलियर्स जैसे बल्लेबाज अपने पूरे पराक्रम के साथ क्रीज पर मौजूद हों तो फिर किसी गेंदबाज की क्या बिसात. अपनी पारी के दौरान 17वां रन पूरा करते ही टी20 में 8000 रन बनाने वाले दूसरे भारतीय और दुनिया के सातवें बल्लेबाज बनने वाले कोहली ने चावला पर खूबसूरत कट से चौका जड़कर 31 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया.

डिविलियर्स ने नारायण के सामने अपनी उत्कृष्टता दिखायी और आंद्रे रसेल के खिलाफ लंबे शाट लगाने के अपने कौशल का प्रदर्शन किया. ऐसे समय में दिनेश कार्तिक का फिर से राणा का फिर से गेंद सौंपना चतुराई भरा फैसला नहीं लगा क्योंकि उनके ओवर में 18 रन बने. डिविलियर्स ने कृष्णा पर दर्शनीय चौके से 28 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया. कुलदीप ने आखिर में अपनी ही गेंद पर कोहली का कैच लेकर केकेआर को कुछ राहत दिलायी. डिविलियर्स भी अगले ओवर में सीमा रेखा पर कैच दे बैठे.