नई दिल्ली: अनुभवी ड्रैगफ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह और स्ट्राइकर आकाशदीप सिंह ने अगले महीने इंडोनेशिया में होने वाले एशियाई खेलों के लिए भारत की 18 सदस्यीय पुरुष हॉकी टीम में वापसी की. हॉकी इंडिया ने सोमवार को गत विजेता भारत की टीम की घोषणा की जिसमें चैंपियन ट्रॉफी की उपविजेता रहने वाली टीम में केवल दो बदलाव किए गए हैं. भारत ने हाल में नीदरलैंड में चैंपियंस ट्रॉफी में रजत पदक जीता था. चैंपियंस ट्रॉफी की टीम से रूपिंदर को आराम दिया गया था. वह जरमनप्रीत सिंह की जगह टीम में लौटे हैं. आकाशदीप ने चोटिल रमनदीप सिंह की जगह ली है. Also Read - साइकिलिस्ट बनने पर पछतावा है, मुझे अपनी पुरानी जिदंगी वापस चाहिए : स्वर्ण सिंह

गोलकीपर पी आर श्रीजेश के नेतृत्व वाली बाकी टीम वही है जिसने चैंपियन ट्रॉफी के आखिरी टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था. चिंग्लेनसाना सिंह को उपकप्तान के रूप में बरकरार रखा गया है और मिडफील्ड में वह अनुभवी सरदार सिंह, मनप्रीत सिंह, सिमरनजीत सिंह और विवेक सागर प्रसाद के साथ शामिल होंगे. भारत की फॉरवर्ड लाइन में केवल एक बदलाव किया गया है जिसमें आकाशदीप रमनदीप की जगह लेंगे. चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान रमनदीप के दायें घुटने में चोट लग गयी थी. आकाशदीप के अलावा एशियाई खेलों की हॉकी टीम में एस वी सुनील, मनदीप सिंह, ललित कुमार उपाध्याय और दिलप्रीत सिंह अन्य स्ट्राइकर होंगे. Also Read - National Sports Awards 2020: क्या Hitman रोहित शर्मा को चुनौती दे पाएगी महिला 'तिकड़ी'

हरमनप्रीत सिंह, वरूण कुमार, अमित रोहिदास, सुरेंद्र कुमार और बिरेंद्र लकड़ा के अलावा अनुभवी ड्रैगफ्लिकर रूपिंदर की वापसी के साथ टीम का डिफेंस मजबूत होगा. भारत ने 2014 के इंचिओन (दक्षिण कोरिया) एशियाई खेलों के फाइनल में पाकिस्तान को हराकर स्वर्ण जीता था और 2020 के तोक्यो ओलंपिक में सीधे प्रवेश के लिए यह उपलब्धि दोहराना चाहेगा. भारत के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह टीम के संयोजन से खुश हैं. Also Read - क्रिकेटरों के बाद हॉकी दिग्गजों ने अफरीदी को लगाई फटकार; कहा- खिलाड़ी को शोभा नहीं देती बयानबाजी

उन्होंने कहा,‘हमारे खिलाड़ियों का मिश्रण शानदार है जिन्होंने हाल की प्रतियोगिताओं में अपनी क्षमताएं दिखायी हैं. लेकिन बदकिस्मती से हमें टीम में रमनदीप सिंह के अनुभव की कमी खलेगी क्योंकि हाल में हुए घुटने के ऑपरेशन के
कारण वह एशियाई खेलों से दूर रहेंगे.एशियाई खेलों से पहले अगले तीन हफ्तों में भारत दक्षिण कोरिया के साथ पांच और न्यूजीलैंड के साथ तीन अभ्यास मैच खेलेगा.

कोच ने कहा, ‘जहां दक्षिण कोरिया के खिलाफ अभ्यास मैचों में कोर ग्रुप के खिलाड़ियों का मिश्रण होगा, न्यूजीलैंड के खिलाफ मैचों में वही 18 सदस्यीय टीम हिस्सा लेगी जिसका चयन एशियाई खेलों के लिए किया गया है.उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि एशियाई खेलों की तैयारी के लिहाज से यह टीम के लिए अच्छा होगा जहां हम निश्चित रूप से स्वर्ण पदक जीतने के लिए उतरेंगे ताकि हम 2020 के तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर सकें.’’

टीम:

गोलकीपर: पी आर श्रीजेश (कप्तान), कृष्ण बी पाठक
डिफेंडर: हरमनप्रीत सिंह, वरूण कुमार, अमित रोहिदास, सुरेंद्र कुमार, बिरेंद्र लकड़ा, रूपिंदर पाल सिंह
मिडफील्डर: चिंग्लेनसाना सिंह कन्गुजम (उपकप्तान), सरदार सिंह, मनप्रीत सिंह, सिमरनजीत सिंह और विवेक सागर प्रसाद
फॉरवर्ड: आकाशदीप सिंह, एस वी सुनील, मनदीप सिंह, ललित कुमार उपाध्याय और दिलप्रीत सिंह.