विंडीज के खिलाफ बुधवार से शुरू हो रही 3 मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड की ओर से बेन स्टोक्स कप्तानी करेंगे. नियमित कप्तान जो रूट की गैरमौजूदगी में स्टोक्स इंग्लैंड की अगुआई करने वाले 81वें टेस्ट कप्तान होंगे.Also Read - Cricket Viral Video: आखिर कौन है ये 'मिस्ट्री स्पिनर', जिसने पूरे वर्ल्ड में मचा दिया तहलका!

भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को कोई संदेह नहीं है कि अपनी ‘नियंत्रित आक्रामकता’ के साथ स्टोक्स वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में आगे बढ़कर अगुआई करेंगे. Also Read - Cricket Viral Video: नन्‍हें बच्‍चे की शानदार लेग स्पिन के मुरीद हुए सचिन तेंदुलकर, वीडियो शेयर कर कहा-ये तो...

तेंदुलकर आनलाइन ऐप ‘100एबी’ पर वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा के साथ बात कर रहे थे और इस दौरान उन्होंने इंग्लैंड के कार्यवाहक कप्तान बेन स्टोक्स को लेकर भी अपना नजरिया रखा. इस श्रृंखला के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी होगी. Also Read - Ashes 2021: Jofra Archer-Ben Stokes टीम से नदारद, पूर्व कप्तान Mike Gatting ने इंग्लैंड की गेंदबाजी को बताया 'दमदार'

‘वह ऐसा खिलाड़ी है जो आगे बढ़कर अगुआई करेगा’

स्टोक्स से जुड़े लारा के सवाल पर तेंदुलकर ने कहा, ‘वह ऐसा खिलाड़ी है जो आगे बढ़कर अगुआई करेगा, हमने कई मौकों पर ऐसा देखा है. वह आक्रामक, सकारात्मक और जब उसे रक्षात्मक होने की जरूरत होती है तो वह टीम के लिए ऐसा करने के लिए तैयार रहता है.’

उन्होंने कहा, ‘मेरा हमेशा से मानना रहा है कि नियंत्रित आक्रामकता से नतीजे मिलते हैं और अब तक मैंने जो देखा है, वह आक्रामक है लेकिन यह नियंत्रित है. मैं बेन स्टोक्स के बारे में यही सोचता हूं.’

बेन स्टोक्स पहली बार इंग्लैंड की अगुआई कर रहे हैं जबकि अपने करियर में उन्होंने कभी प्रथम श्रेणी टीम की कप्तानी भी नहीं की है. नियमित कप्तान जो रूट ने अपने दूसरे बच्चे के जन्म के कारण पहले टेस्ट से बाहर रहने का फैसला किया है.

‘मैं उसे काफी ऊपर आंकता हूं’

तेंदुलकर ने कहा, ‘बेन स्टोक्स को अतीत में जिन चीजों का सामना करना पड़ा और आज वह जहां है उसे देखकर मैं यही कह सकता हूं कि वह पूरी तरह बदलाव लेकर आया है और यह उसी के साथ हो सकता है जो मानसिक रूप से मजबूत हो.’

तेंदुलकर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि वह उन खिलाड़ियों में शामिल है जिनके बारे में समय आने पर आप कहोगे कि बेन स्टोक्स, एंड्रयू फ्लिंटाफ, इयान बॉथम शीर्ष ऑलराउंडर थे जो इंग्लैंड के लिए खेले. मैं उसे काफी ऊपर आंकता हूं और मैदान पर उसका प्रभाव काफी अधिक है.’