टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने हाल ही अपना वह अनुभव साझा किया था, जब वह अवसाद (Depression) का शिकार हुए थे. विराट ने कहा था कि महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने उन्हें इस अवसाद से बाहर निकालने में काफी मदद की. विराट ने इस मुद्दे पर खुलकर अपनी बात कही, जिसके लिए मास्टर ब्लास्टर ने अब उनकी तारीफ की है. सचिन ने अपने टि्वटर हैंडल पर लिखा कि उन्हें विराट कोहली पर गर्व है कि उन्होंने अपने निजी अनुभव को सबके साथ शेयर किया.Also Read - Virat Kohli को वनडे कप्‍तानी से हटाकर BCCI ने गलती की, पाक क्रिकेटर बोले- यह संभव नहीं...

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने हाल ही में एक इंटरव्यू में बताया कि साल 2014 में जब वह इंग्लैंड दौरे पर गए थे, तो वहां टेस्ट सीरीज में वह बुरी तरह फ्लॉप होने के बाद वह डिप्रेशन का शिकार हो गए थे. वह टीम में अपने साथियों के साथ होने के बावजूद खुद को अकेला महसूस कर रहे थे और उन्हें यह कमी महसूस हो रही थी कि इन हालात में उन्हें कौन समझ पाएगा. Also Read - कौन होगा भारत का नया टेस्‍ट कप्‍तान ? Steve Smith ने इन दो खिलाड़ियों को बताया मजबूत दावेदार

विराट ने कहा कि जब सचिन से उन्होंने इस मुद्दे पर बात की तो उन्होंने उनकी सोच में बदलाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. सचिन ने विराट को सलाह दी थी कि वह इन नकारात्मक भावनाओं से लड़ना छोड़ दें और उन्हें ऐसे ही गुजर जाने दें. सचिन ने कहा था कि अगर नकारात्मक फीलिंग से आप लड़ने की कोशिश करते हैं तो यब और मजबूत होती चली जाती हैं. Also Read - विराट कोहली के बाद जेसन होल्डर बन सकते हैं RCB के अगले कप्तान: आकाश चोपड़ा

सचिन तेंदुलकर के टि्वटर से

विराट कोहली ने हाल ही में मशहूर प्रसारणकर्ता मार्क निकोलस के साथ खास पोडकास्ट कार्यक्रम ‘नॉट जस्ट क्रिकेट’ में इस गंभीर मुद्दे अपने अनुभव को साझा करते हुए इस बात पर जोर दिया है कि इन दिनों खिलाड़ियों के साथ मेंटल एक्सपर्ट भी होने चाहिए.

भारतीय कप्तान ने सलाह दी है कि दुनिया के सभी क्रिकेट बोर्ड को खिलाड़ियों की मानसिक सेहत पर भी गौर करना चाहिए और टीम मैनेजमेंट में मेंटल हेल्थ स्पेशलिस्ट भी होने चाहिए. क्योंकि अपने करियर में सभी खिलाड़ी कभी न कभी डिप्रेशन का शिकार होते हैं. इससे खिलाड़ियों का करियर भी बर्बाद हो सकता है.

सचिन तेंदुलकर ने विराट के इस जज्बे की तारीफ की है कि उन्होंने इस गंभीर विषय पर खुलकर अपनी बात रखी है और अपने निजी अनुभव को शेयर किया है. सचिन ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘विराट कोहली आपकी कामयाबी और आपके इस निजी अनुभव को शेयर करने के निर्णय पर गर्व है. इन दिनों सोशल मीडिया पर लगातार युवाओं पर राय बनाई जाती है. सभी उनके बारे में बात करते हैं लेकिन कोई भी उनसे बात नहीं करता है. हमें खुद को इस लायक बनाना चाहिए कि हम उन्हें सुन सकें और उनके विकास में मदद कर सकें.’