देश में बढ़ते कोरोनावायरस (Coronavirus) के संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को 40 खिलाड़ियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात की. मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) भी इस मीटिंग में शामिल हुए. उन्‍होंने इस दौरान प्रधानमंत्री से कहा कि 14 अप्रैल के बाद का समय कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ  लड़ाई में काफी अहम होने वाला है. Also Read - अपने कर्मचारियों को 5 साल तक के लिए छुट्टी पर भेजेगी एयर इंडिया, तनख्वाह नहीं दी जाएगी

तेंदुलकर ने सभी को हाथ मिलाने की जगह नमस्‍ते करने की सलाह दी. साथ ही उन्‍होंने कहा,‘‘मोदी ने मेरी इस धारणा को पुख्ता किया कि हम 14 अप्रैल के बाद भी निश्चिंत होकर बैठ नहीं सकते. उसके बाद का समय काफी अहम होगा.’’ Also Read - कोरोना: दिल्ली में 1 लाख 17 हज़ार मामले, 95 हज़ार लोग ठीक, 3487 की मौत

सभी की तरह लॉकडाउन के दौरान तेंदुलकर भी सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं. ‘‘मैने यह भी कहा कि मैं जहां तक संभव हो , नमस्‍ते करके ही अभिवादन करता रहूंगा. महामारी से उबरने के बाद भी.’’ Also Read - मुंबई की बारिश में सचिन ने जमकर की मस्‍ती, बेटी सारा तेंदुलकर ने बनाया VIDEO

मोदी ने यह भी कहा कि इस समय बुजुर्गों का खास ध्यान रखने की जरूरत है. ‘‘यह समय बुजुर्गों के साथ बिताना चाहिये. उनके अनुभव और उनकी कहानियां सुननी चाहिये.’’

उन्होंने कहा,‘‘हमने यह भी बात की कि इस समय शारीरिक के साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी ध्यान देना होगा. हमें एक टीम भावना के साथ टीम के रूप में काम करते हुए देश को इस महामारी से निकालना है.’’