मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के लिए आज का दिन बेहद खास है. तेंदुलकर का आज 47वां जन्मदिन है. इस दिग्गज क्रिकेटर के बर्थडे के मौके पर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने अपने ऑफिशियल इंस्टग्राम हैंडल पर 2011 विश्व कप जीतने पर सचिन के विचार साझा किए हैं. Also Read - रोहित शर्मा को टी20 टीम का कप्तान बनाए जाने के पक्ष में है ये पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज

विश्व कप जीतना सचिन के बचपन के सपने के सच होने की कहानी थी. महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई में भारत ने 28 साल बाद विश्व विजेता बनने का गौरव हासिल किया था, तब सचिन ड्रेसिंग रूम से दौड़ते हुए उस वानखेड़े स्टेडियम के बीच में आ गए थे, जहां वह बचपन से खेले थे. टीम के साथियों ने सचिन को कंधों पर उठा लिया था और पूरे स्टेडियम में सचिन, सचिन के नारे गूंज रहे थे. Also Read - वनडे में सचिन-गांगुली की जोड़ी आज भी है नंबर-1, अब ये हैं टॉप-5 ओपनिंग पेयर्स

Happy Birthday Sachin: कोहली, शास्त्री सहित खेल जगत ने सचिन तेंदुलकर को 47वें जन्मदिन पर दी बधाई, जानें किसने क्या कहा Also Read - रोहित शर्मा: लॉकडाउन से पहले मैं फिटनेस टेस्‍ट के लिए तैयार था, अब मुझे फिर से करना होगा ये काम

सचिन ने अपने छठे विश्व कप की याद को ताजा करते हुए कहा, ‘मैंने टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए थे और मेरा योगदान काम आया. अंत में मायने यह बात रखती थी कि विश्व कप ट्रॉफी हमारे ड्रेसिंग रूम में हो.’

47 वर्षीय तेंदुलकर ने कहा, ‘यह मेरे जीवन के सबसे सुंदर पलों में से एक था. इसे बड़ा कोई पल नहीं हो सकता. विजेता के तौर पर मैदान का चक्कर लगाना वो शानदार अहसास था. मेरे जीवन में क्रिकेट का सबसे यादगार पल.’

Sachin Tendulkar’s Birthday: 14 साल के रहाणे को सचिन ने बुलाया था अपने घर, कर बैठे थे ये काम

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन ने कहा, ‘हां पहली बार जब मैंने भारतीय टीम की कैप पहनी थी तब मैं काफी उत्साहित था. लेकिन 2011 का कोई सानी नहीं है. पूरा देश जश्न मना रहा था. आप बहुत कम ही देखते हैं कि पूरा देश जश्न मना रहा हो.’

तेंदुलकर ने कुल 200 टेस्ट मैच खेले जिसमें उनके नाम 51 शतक दर्ज हैं जबकि वनडे में 49 शतक इस क्रिकेट के भगवान के बल्ले से निकले हैं.