वसई (महाराष्ट्र): फिटनेस के महत्व पर जोर देते हुए महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने बुधवार को लोगों को सलाह दी कि वे खाने के टेबल से अधिक समय जिम में बिताएं. क्रिकेट के महानतम बल्लेबाजों में शामिल और मास्टर ब्लास्टर के नाम से मशहूर सचिन ने कहा कि भारतीयों में फिटनेस की कमी होती है.

तेंदुलकर ने यहां कहा, ‘‘हमारा देश खेल प्रेमी है, खेल खेलने वाला देश नहीं और इसलिए हमारे अंदर फिटनेस की कमी है. रिपोर्टों के अनुसार हम विश्व की मधुमेह राजधानी हैं, मोटापे के मामले में हम तीसरे स्थान पर हैं.’’ तेंदुलकर वसई तालुका कला एवं क्रीड़ा महोत्सव के उद्घाटन के लिए आए थे. इस मौके पर अनुभवी गायक हरिहरन और मराठी अभिनेत्री मृणाल कुलकर्णी भी मौजूद थीं.

स्ट्रेट ड्राइव: आधे मैचों में 5 ओवर भी नहीं टिकते ओपनर्स, क्या टीम इंडिया को विदेश में है स्पेशलिस्ट की जरूरत?

पूर्व भारतीय कप्तान तेंदुलकर ने कहा, ‘‘ये ऐसे आंकड़े नहीं हैं जिन पर हमें गर्व हो. अगर हम इन आंकड़ों में बदलाव नहीं करते तो फिर युवा जनसंख्या होने का कोई फायदा नहीं है.’’ तेंदुलकर ने जिम और खाने की टेबल के समय को बदलने ही सलाह देते हुए कहा, ‘‘जब हम जिम में होते हैं तो हम घड़ी देखते हुए सोचते हैं कि ट्रेडमिल पर मेरे 20 मिनट कब पूरे होंगे और कभी-कभी हम 15 मिनट में ही इसे छोड़ देते हैं.’’

डेब्यू मैच में अपनी बैटिंग से खुश हैं मयंक अग्रवाल, लेकिन कहा- मैं और टिक कर खेलना चाहता था

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन जब हम खाने की टेबल पर बैठते हैं जो रसोई की ओर देखते हुए सोचते हैं कि मेरा अगला परांठा कब आएगा. जब हम इसकी अदला बदली कर दें, जिम में पांच मिनट अधिक और खाने की टेबल पर पांच मिनट कम बिताएंगे तो अपनेआप ही हमारे स्वास्थ्य में सुधार हो जाएगा.’’