केरल के युवा तैराक साजन प्रकाश (Sajan Prakash) ने शनिवार को नया इतिहास अपने नाम कर लिया. उन्होंने रोम में सेट्टे कोली ट्रॉफी में पुरुषों की 200 मीटर बटरफ्लाय वर्ग में 1:56:38 (एक मिनट 56.38 सेकंड) का समय निकालकर ओलंपिक ‘A’ क्वॉलीफिकेशन टाइम पार कर लिया. ऐसा करने वाले वह पहले भारतीय खिलाड़ी हैं. रियो ओलंपिक 2016 खेल चुके साजन तोक्यो ओलंपिक ‘ए’ स्टैंडर्ड में प्रवेश में 0.1 सेकंड से कामयाब रहे. तोक्यो ओलंपिक ए स्टैंडर्ड एक मिनट 56.48 सेकंड है.Also Read - एशियाई खेल 2018: भारतीय तैराक सजन प्रकाश 200 मीटर बटरफ्लाई स्पर्धा के फाइनल में

इस उपलब्धि को हासिल करने के बाद प्रकाश ने कहा, ‘मैंने इसके लिए बहुत मेहनत की है और अपनी तैयारियों की वजह से मुझे पूरा आत्मविश्वास था.’ Also Read - CWG 2018: तैराकी के बटरफ्लाई इवेंट के फाइनल में पहुंचे साजन प्रकाश, पदक की जगी उम्मीद

उन्होंने कहा, ‘यह मेरे पास आखिरी मौका था और मुझे पता था कि यहां करना ही है. मैं पहले भी क्वॉलीफाइंग मार्क के करीब पहुंचा लेकिन मेरे कोच प्रदीप सर और मैने इस तरह रणनीति बनाई थी कि सर्बिया और रोम में दोनों टूर्नामेंटों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हो.’ Also Read - Rio Olympic 2016 swimming: Sajan and Shivani fail to make to the finals | रियो ओलम्पिक (तैराकी) : फाइनल में जगह नहीं बना सके सजन, शिवानी

उन्होंने कहा, ‘मैं एसएफआई, साइ और खेल मंत्रालय से मिले सहयोग के लिये शुक्रगुजार हूं. मुझे खुद पर और कोच प्रदीप सर पर भरोसा था. यह उन्हीं की वजह से संभव हुआ है.’

साजन के इस प्रदर्शन और उपलब्धि से महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ने भी साजन की ट्विटर पर तारीफ की है. उन्होंने साजन की इस उपलब्धि से जुड़ी एक खबर को ट्वीट करते हुए उनकी तारीफ में लिखा, ‘हैरतअंगेज. ब्रैवो साजन! उम्मीद करता हूं कि खेल के शीर्ष टूर्नामेंट्स में भारतीयों की भागीदारी के एक नए युग का संकेत है. और मैं खासतौर से ईर्यावान हूं क्योंकि मैं भी बचपन से तैराकी कर रहा हूं लेकिन आज भी बटरफ्लाई स्ट्रोक में लय हासिल करने में महारत नहीं पा पाया. क्या किसी के पास कोई सुझाव हैं इसे आसान बनाने के लिए.’

केरल के इस तैराक ने पिछले सप्ताह बेलग्रेड ट्रॉफी तैराकी प्रतियोगिता में एक मिनट 56.96 सेकंड का समय निकाला था, जो उनका नेशनल रिकॉर्ड था. भारतीय तैराकी महासंघ ने ट्वीट किया, ‘भारतीय तैराकी के लिए ऐतिहासिक पल. साजन प्रकाश ने ओलंपिक क्वॉलीफिकेशन समय निकाला. बधाई.’

प्रकाश तोक्यो ओलंपिक की तैराकी स्पर्धा में माना पटेल के साथ भाग लेंगे. माना को भारतीय तैराकी महासंघ ने नामित किया है. प्रकाश के सीधे क्वॉलीफाई करने के मायने हैं कि श्रीहरि नटराज तोक्यो ओलंपिक में भाग नहीं ले सकेंगे, जिन्हें माना के साथ यूनिवर्सिटिलिटी कोटा के तहत नामांकित किया गया था. नटराज रोम में शुक्रवार को 100 मीटर बैकस्ट्रोक में क्वॉलीफाई करने से 0.5 सेकंड से चूक गए थे.

यूनिवर्सिलिटी कोटा के तहत देश से एक पुरुष और एक महिला तैराक को ओलंपिक खेलने का मोका मिलता है बशर्ते कोई सीधे क्वॉलीफाई नहीं कर ले या उसे ओलंपिक चयन समय (B) के आधार पर फिना से न्योता नहीं मिले.

प्रकाश को हमेशा से ए मार्क हासिल करने का यकीन था. उन्होंने अप्रैल में पीटीआई से कहा था, ‘अभी मैं सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहनीं कर रहा हूं लेकिन मुझे यकीन है कि जल्दी ही करूंगा. इसके लिए सब्र रखना होगा.’

(इनपुट : भाषा)