एशियाई चैंपियनशिप के लिए शनिवार को महिलाओं की ट्रायल्स में 2 बड़े उलटफेर हुए. रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता भारतीय महिला पहलवान साक्षी मलिक (62 किग्रा) और वर्ल्ड चैंपियनशिप की पदकधारी पूजा ढांडा को पहले ही दौर में निराशा हाथ लगी. Also Read - Individual Wrestling World Cup: अंशु मलिक ने Silver Medal पर किया कब्जा, साक्षी मलिक-सोनम ने किया निराश

35 साल की उम्र में इरफान पठान ने क्रिकेट को कहा अलविदा Also Read - 'हम सभी COVID-19 Lockdown में हैं लेकिन मैंने एक दिन भी Practice नहीं छोड़ी'

दो बार की वर्ल्ड कैडेट चैंपियन सोनम मलिक ने साक्षी मलिक को जबकि जूनियर अंशु मलिक ने वर्ल्ड चैंपियनशिप की पदकधारी पूजा ढांडा को पराजित कर उलटफेर करते हुए एशियाई चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम में अपना स्थान पक्का किया. Also Read - मां बनने के बाद 'दंगल गर्ल' ने टोक्यो ओलंपिक के लिए भरी हुंकार, तैयारी शुरू की

सोनम और अंशु दोनों को पहले दौर में अनुभवी पहलवानों से भिड़ना था लेकिन दोनों ने साहसिक प्रदर्शन किया. फाइनल दौर में सोनम ने राधिका को 4-1 से हराकर 62 किग्रा वर्ग में भारतीय टीम में जगह बनाई. अंशु ने पूजा को हराने के बाद 57 किग्रा ट्रायल के फाइनल में मानसी को पस्त किया.

विनेश फोगाट और दिव्या काकरान ने आसानी से जीते अपने-अपने मुकाबले

अन्य वजन वर्गों में विनेश फोगाट (53 किग्रा) और दिव्या काकरान (68 किग्रा) ने आसानी से अपने मुकाबले जीत लिए. निर्मला देवी (50 किग्रा) और किरण गोदारा (76 किग्रा) अन्य पहलवान रहीं जिन्होंने ट्रायल में जीत हासिल की.

516 मिनट तक बल्लेबाजी कर मार्नस लाबुशेन ने लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, साल 2020 का स्वागत डबल सेंचुरी से किया

विजेता पहलवान रोम में 15 से 18 जनवरी तक चलने वाली पहली रैंकिंग सीरीज में भाग लेंगी जिसके बाद ये नई दिल्ली में 18 से 23 जनवरी तक होने वाली एशियाई चैंपियनशिप में शिरकत करेंगी.

अगर ये पहलवान इन दोनों प्रतियोगिताओं में पदक जीत लेती हैं तो 27 से 29 मार्च तक जियान में होने वाले एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी.