नई दिल्ली : सहायक कोच संजय बांगड़ का मानना है कि चौथे वनडे में भारतीय बल्लेबाजी का पतन अपवाद था और उन्हें मध्यक्रम पर पूरा भरोसा है. बांगड़ का कहना है कि कठिन हालात में बल्लेबाजों ने हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया है. हैमिल्टन में पिछले वनडे में भारतीय टीम 92 रन पर आउट हो गई थी. Also Read - Team India की ऐतिहासिक जीत के बाद Virendra Sehwag का Tweet हुआ वायरल, जानें किस अंदाज में दी थी बधाई...

Also Read - LIVE CRICKET SCORE, INDIA vs AUSTRALIA, DAY-5: भारत ने गाबा में दर्ज की जीत, 2-1 से नाम की सीरीज

बांगड़ ने पांचवें वनडे से पहले कहा, ‘‘मध्यक्रम ने कई मौकों पर अच्छा प्रदर्शन किया है. कुछ हालात चुनौतीपूर्ण होते हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि मध्यक्रम ने अच्छा खेल नहीं दिखाया है.’’ उन्होंने खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा ,‘‘ जब जरूरत होती है तो मध्यक्रम भरोसे पर खरा उतरता आया है. पिछला मैच अपवाद था.’’ Also Read - LIVE Cricket Score, IND vs AUS: बारिश के चलते जल्‍द खत्‍म हुआ मैच, भारत 4/‍0, जीत के लिए 324 रनों की दरकार

INDvsNZ: टीम इंडिया में धोनी की होगी वापसी, आखिरी वनडे में न्यूजीलैंड चाहेगा जीत

बांगड़ ने जनवरी 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ कटक मैच, अक्टूबर 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इंदौर मैच और आस्ट्रेलिया के खिलाफ जनवरी 2019 में मेलबर्न मैच का हवाला दिया. उन्होंने कहा, ‘‘यदि शीर्षक्रम के बल्लेबाज अच्छा खेल रहे हैं तो मध्यक्रम को उतने मौके नहीं मिलते. यह उन सीरीज में से एक है जिसमें शीर्षक्रम में से कोई शतक नहीं बना सका और मध्यक्रम को काफी मौका मिला. उन्होंने मौका मिलने पर फिनिशर की भूमिका भी बखूबी निभाई.’’

न्यूजीलैंड को बड़ा झटका, भारत के खिलाफ 5वें वनडे से पहले दिग्गज खिलाड़ी हुआ चोटिल

उन्होंने कहा, ‘‘यह एक खराब मैच था. हमें पता है कि हम अपनी क्षमता के अनुरूप नहीं खेले. हमें इसे भूलकर अगले मैच पर फोकस करना होगा.’’ बांगड़ ने कहा कि टीम प्रबंधन खिलाड़ियों को रोटेट करने की कोशिश कर रहा है ताकि सभी को मौका मिल सके. उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी को मौका देने की कोशिश कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया में जान बूझकर ऐसा किया गया और यहां भी खिलाड़ियों को रोटेट कर रहे हैं.’’