पूर्व भारतीय बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) ने बांग्लादेश टेस्ट टीम के बल्लेबाजी सलाहकार बनने का बीसीबी (BCB) का प्रस्ताव ठुकरा दिया है। बांगड़ का कहना है कि उन्होंने ऐसा निजी और पेशेवर प्रतिबद्धताओं की वजह से किया है। Also Read - नवंबर 2022 में बांग्लादेश का दौरा करेगी भारतीय टीम; बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने 161.5 करोड़ में बेचे मैचों के टीवी राइट्स

बता दें कि बीसीबी अध्यक्ष निजामुद्दीन चौधरी ने हालिया बयान में पुष्टि की थी की बांग्लादेश की टेस्ट टीम के बल्लेबाजी सलाहकार के पद के लिए उनकी बातचीत बांगड़ से हो रही है हालांकि कुछ तय नहीं हुआ है। Also Read - टी20 क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए टेस्ट क्रिकेट को खत्म ना करें: इंजमाम उल हक

इस मामले पर पीटीआई से बातचीत में बांगड़ ने कहा, “उन्होंने आठ हफ्तों पहले मुझे ये प्रस्ताव दिया था लेकिन मैंने आखिरकार ये फैसला किया कि स्टार के साथ मेरा कॉन्ट्रेक्ट मुझे अपने निजी जिंदगी और पेशेवर प्रतिबद्धताओं को संतुलित करने का मौका देता है। हालांकि मैं आगे भविष्य में बीसीबी के साथ काम करना चाहूंगा।” Also Read - पूर्व इंग्लिश कप्तान माइकल वॉन की सलाह; सैंडपेपर गेट को भूल आगे बढ़े क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया

पूर्व दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर नील मेकेन्जी फिलहाल सीमित ओवर फॉर्मेट में बांग्लादेशी टीम के बल्लेबाजी सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं। हालांकि वो टेस्ट टीम के साथ भी काम करते हैं।

‘अगर फिट हैं महेंद्र सिंह धोनी तो उनके अलावा किसी और को नहीं चुन सकती है टीम इंडिया’

बांगड़ जो कि साल 2014 से 2019 तक भारतीय टीम के साथ बतौर बल्लेबाजी कोच काम कर रहे थे, उनकी जगह विक्रम राठौड़ ने ले ली है। वेस्टइंडीज के दौरे के बाद बांगड़ को टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच के पद से हटा दिया गया।

गौरतलब है कि बांगड़ कोचिंग स्टाफ के अकेले सदस्य थे, जिसका कॉन्ट्रेक्ट आगे नहीं बढ़ाया गया। कोच रवि शास्त्री, गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर सभी के कॉन्ट्रेक्ट को बरकरार रखा गया है।