भारतीय टीम (Team India) के पूर्व बल्‍लेबाज और मौजूदा समय में कमेंटेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) को हैमिल्‍टन में खेली गई केएल राहुल (KL Rahul) की पारी को देखकर साउथ अफ्रीका के दिग्‍गज बल्‍लेबाज एबी डीविलियर्स (AB de Villiers) के 360 ड्रिग्री वाले खेल की याद आ गई.Also Read - IPL 2022: KL Rahul और Rashid Khan पर लग सकता है एक साल का बैन, लग रहे /s आरोप

न्‍यूजीलैंड के खिलाफ हैमिल्‍टन वनडे में भारतीय टीम को जरूर हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन शतकवीर श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) के साथ-साथ 64 गेंद पर 88 रन ठोकने वाले केएल राहुल की बल्‍लेबाजी की हर कोई खूब तारीफ कर रहा है. Also Read - World Test Championship 2021-23 Points Table: तीसरे स्‍थान पर खिसका भारत, यहां देखें पूरी लिस्‍ट

पढ़ें:- विराट कोहली लगातार तीसरे साल भारत के सबसे बड़े ब्रांड, अक्षय कुमार नंबर-2 पर लेकिन ब्रांड वैल्‍यू है आधी Also Read - श्रेयस अय्यर ने बताया अश्विन से पहली मुलाकात का किस्‍सा, वानखेड़े में बॉल-ब्‍वाय था ये भारतीय बल्‍लेबाज

केएल राहुल ने अपनी पारी में छह छक्‍के और तीन चौके लगाए. राहुल ने मैच के दौरान रिवर्स शॉट खेलते हुए भी छक्‍का जड़ा. उनकी बल्‍लेबाजी में ऐसी विविधता दिखी जिसे देखते हुए ही एबी डीविलियर्स का नाम फैन्‍स ने मिस्‍टर-360 रखा था.

एबी डीविलियर्स के पिटारे में ऐसे-ऐसे शॉट हैं, जिसकी कभी किसी ने कल्‍पना भी नहीं की हो. वो शानदार गेंदबाजी के सामने भी अपनी बल्‍लेबाजी में विवधता के कारण छक्‍के-चौके लगाने के लिए जाने जाते हैं. मंगलवार को केएल राहुल भी कुछ इसी तरह की बल्‍लेबाजी करते हुए नजर आए.

संजय मांजरेकर ने ट्वीट किया, “केएल राहुल की क्‍लासिकल बल्‍लेबाजी को देखकर लगता है कि केवल उनमें ही 360 डिग्री बल्‍लेबाजी करने की क्षमता है.”

मांजरेकर ने हिंट दिया कि केएल राहुल में एबी डीविलियर्स की जगह लेने की क्षमता है. डीविलियर्स जो अपने करियर के दौरान कर चुके हैं, राहुल भी आगे चलकर उन्‍हीं की तरह अलग-अलग तरीके से शॉट खेलकर रन बना सकते हैं.

पढ़ें:- टी20 की तुलना में न्यूजीलैंड की वनडे टीम दबाव से अच्छी तरह से निपट सकती है: टेलर

बता दें कि वनडे सीरीज से पहले ही कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने यह साफ कर दिया था कि केएल राहुल 50 ओवरों के क्रिकेट में मध्‍यक्रम में अपनी भूमिका निभाएंगे. केएल राहुल अब तक टीम इंडिया में सलामी बल्‍लेबाजी के साथ-साथ नंबर-4 व निचले क्रम में भी खेल चुके हैं.