नई दिल्लीः विश्व कप के तहत आज भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जाने वाले सेमीफाइल मुकाबले को लेकर क्रिकेट फैन्स काफी उत्साहित हैं. वहीं दूसरी तरह इस मैच को लेकर सट्टा बाजार में भी खूब रैनक देखी जा रही है. केवल दिल्ली के अवैध सट्टा बाजारों में 150 करो़ड़ रुपये से अधिक की राशि दांव पर लगाई गई है. माना जा रहा है कि कारोबरी वर्ग के सट्टेबाजों और अंडरवर्ल्ड सिंडिकेट्स के बुकियों का दिल्ली से सटे शहरों फरीदाबाद, गाजियाबाद, नोएडा और गुरुग्राम में व्यापाक नेटवर्क है. इनको पकड़ने के लिए दिल्ली पुलिस ने इनके इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसों को सर्विलांस पर ले रखा है.

न्यूज एजेंसी आईएएनएस से बातचीत में दिल्ली पुलिस के उपायुक्त मधुर वर्मा ने कहा कि वे सट्टेबाजी से जुड़ी गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं. भारत-न्यूजीलैंड मैच को लेकर सट्टेबाजी की पूरी आशंका है. उन्होंने कहा कि पुलिस करोल बाग और पुरानी दिल्ली के इलाकों में पाइव स्टार होटलों और गेस्ट हाउसों पर नजर रख रही है. इन इलाकों में बड़े सट्टेबाज सक्रिय रहते हैं. इनका बहुत मजबूत नेटवर्क है. उनका पता लगाना काफी मुश्किल है लेकिन हम अपना काम कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि पहले भी दिल्ली पुलिस ने उत्तरी दिल्ली से कई बड़े सट्टेबाजों को गिरफ्तार किया है. उनके पास एक गोपनीय सॉफ्टवेयर होता है, जो मोबाइल से लिंक होता है और उसके जरिए ही सट्टा खेला जाता है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि भारत-न्यूजीलैंड मैच में सट्टेबाजी की पूरी संभावना है. इस मैच में भारत सट्टेबाजों की पसंदीदा टीम है. उन्होंने कहा कि इस मैच को लेकर बोली केवल हार-जीत नहीं बल्कि हर ओवर और हर बॉल के हिसाब से लगाई जा जा रही है. उन्होंने बताया कि कौन सबसे अधिक विकेट लेगा और कौन सबसे अधिक छक्के लगाएगा इस पर भी बोली लगाई जा जाएगी. मैच के लिए टॉस के साथ ही बोली शुरू हो जाती है. पश्चिमी दिल्ली के एक सट्टेबाज ने बताया कि अधिकतर सट्टेबाजों ने इस चीज पर बोली लगाई है कि कौन टॉस जीतेगा. टॉस जितने के बाद कप्तान के फैसले को लेकर बोली लगाई जाएगी. इस समय टीम इंडिया की बेस बेटिंग रेट 4.35 रुपये जबकि न्यूजीलैंड की 49 रुपये है.