चांग्झू: सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की भारत की मिश्रित युगल जोड़ी ने मंगलवार को यहां चीन ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में प्रवीण जोर्डन और मेलाती देइवा ओक्तावियांती की इंडोनेशिया की दुनिया की सातवें नंबर की जोड़ी को हराकर उलटफेर किया. सात्विक और अश्विनी की दुनिया की 26वें नंबर की जोड़ी ने एक गेम गंवाने के बावजूद 50 मिनट में प्रवीण और मेलाती की जोड़ी को 22-20 17-21 21-17 से हराकर 10 लाख डालर इनामी विश्व टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट के दूसरे दौर में जगह बनाई.

दूसरे T-20 में दक्षिण अफ्रीका पर बढ़त बनाने उतरेगा भारत, पंत के लिए ‘करो या मरो’ की स्थिति

जोर्डन और मेलाती की जोड़ी 2018 इंडिया ओपन सहित पांच फाइनल में जगह बना चुकी है लेकिन भारतीय जोड़ी ने उन्हें लगातार दबाव में रखते हुए जीत दर्ज की. सात्विक और अश्विनी का सामना अगले दौर में युकी केनेको और मिसाकी मात्सुतोमो की जापान की जोड़ी और सैम मैगी तथा क्लो मैगी की आयरलैंड की भाई-बहन की जोड़ी के बीच होने वाले मैच के विजेता से होगा.

इंग्लैंड को विश्व चैंपियन बनाने वाले कोच बेलिस का खत्म हुआ कार्यकाल, भावुक कर देगा Video

भारतीय जोड़ी की शुरुआत अच्छी नहीं रही और वह 4-7 से पिछड़ गई. लगातार पांच अंक की बदौलत सात्विक और अश्विनी हालांकि ब्रेक तक 11-10 की बढ़त बनाने में सफल रहे. ब्रेक के बाद जोर्डन और मेलाती की जोड़ी ने 18-12 की बड़ी बढ़त हासिल कर ली लेकिन भारतीय जोड़ी ने जोरदार वापसी करते हुए स्कोर 20-20 किया और फिर गेम जीत लिया. दूसरे गेम में भी इंडोनेशिया की जोड़ी ने अच्छी शुरुआत करते हुए 4-4 के स्कोर के बाद ब्रेक तक 11-8 की बढ़त बनाई.

धोनी के करियर को तराशने वाले इस पूर्व कप्तान ने कहा – माही पर जल्द फैसला लें कोहली और चयनकर्ता

जोर्डन और मेलाती ने इसके बाद इस बढ़त को बरकरार रखते हुए दूसरा गेम जीतकर मुकाबला 1-1 से बराबर कर दिया. तीसरे और निर्णायक गेम में सात्विक और अश्विनी ने अच्छी शुरुआत करते हुए 4-2 की बढ़त बनाई और फिर ब्रेक तक 11-6 से आगे हो गए. जोर्डन और मेलाती ने वापसी की कोशिश की लेकिन भारतीय जोड़ी ने बढ़त बरकरार रखते हुए गेम और मैच अपने नाम किया.