शाहबाज नदीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टेस्ट के लिए अंतिम एकादश में शामिल किया जाना भले ही हैरान करने वाला फैसला रहा हो लेकिन भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने कहा कि इस बायें हाथ के स्पिनर को घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के आधार पर चुना गया.

VIVO Pro Kabaddi League Season 7, FINAL : दबंग दिल्ली को हराकर बंगाल वॉरियर्स ने पहली बार जीता खिताब

चौदह घंटे पहले उन्हें चोटिल कुलदीप यादव की जगह शामिल किया गया था और मैच शुरू होने से पहले कप्तान विराट कोहली ने झारखंड के इस 30 साल के खिलाड़ी को ‘टेस्ट कैप’ दी.

इस तरह वह महेंद्र सिंह धोनी और वरुण एरोन के बाद भारतीय टेस्ट टीम में जगह बनाने वाले झारखंड के तीसरे क्रिकेटर बन गए.

राठौड़ ने कहा, ‘उनके प्रथम श्रेणी क्रिकेट में करीब 424 विकेट हैं. वह लगातार अच्छी गेंदबाजी करता रहे हैं और निश्चित रूप से यह उनके घरेलू मैदान की परिस्थितियां हैं. मुझे लगता है कि यह चयनकर्ताओं का फैसला था और मुझे लगता है कि यह सही भी था.’

उन्होंने कहा, ‘हम यहां स्पिनर खिलाना चाहते थे. कुलदीप के कंधे में कुछ समस्या थी तो वह इस मैच में नहीं खेल पाया. चयनकर्ताओं ने नदीम को उसके प्रदर्शन के आधार पर चुना.’

Sultan of Johor Cup 2019: खिताब से चूकी जूनियर भारतीय हॉकी टीम, ग्रेट ब्रिटेन ने 2-1 से हराया

पूर्व भारतीय विकेटकीपर से कमेंटेटर बने दीप दासगुप्ता को लगता है कि नदीम जेएससीए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की स्पिन के मुफीद हालात में अच्छा प्रदर्शन करेंगे.

बंगाल के पूर्व कप्तान ने कहा, ‘उन्होंने अपने ज्यादातर विकेट यहीं चटकाये हैं और वह हालात से भली भांति वाकिफ भी है. वह यहां अच्छा करेंगे.’