नई दिल्ली: अमेरिका की दिग्गज महिला खिलाड़ी सेरेना विलियम्स ने इटली की केमिला जियोर्जी को 3-6, 6-3, 6-4 से हराकर साल के तीसरे ग्रैंड स्लेम विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के महिला एकल के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सेरेना ने इस जीत के बाद कहा, “मैंने कभी नहीं सोचा था कि इस मैच में मुझे हार के खतरे का सामना करना पड़ेगा. जब मैं पहला सेट हारी तो मुझे लगा वह अच्छा खेल रही है. लेकिन मैं बहुत कुछ सही चीजें कर रही हूं.”

उन्होंने कहा, “मुझे कभी नहीं लगा कि मैच मेरे हाथ से निकल गया है. यदि यह एक सबक है तो मैं अपनी बेटी को सिखाऊंगी कि आप हमेशा लड़ती रहें. जीवन में यह महत्वपूर्ण है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या कर रहे हैं.” पिछले साल सितंबर में बेटी ओलंपिया को जन्म देने के बाद सेरेना का यह चौथा टूर्नामेंट हैं. उन्होंने कहा कि मां की ममता ने टेनिस के प्रति उनका नजरिया बदल दिया है. 23 बार की ग्रैंड स्लेम विजेता सेरेना का सेमीफाइनल में 13वीं सीड जर्मनी की जुलिया जॉर्जेज से सामना होगा जिन्होंने डेनमार्क की किकी बेर्तेंस को 3-6, 7-5, 6-1 से मात देकर अंतिम-4 में जगह बनाई है.

INDvsENG: टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में बदलाव, पहले वनडे के लिए तैयार हुआ इंग्लैंड

महिला एकल के ही एक अन्य सेमीफाइनल में 11वीं सीड जर्मनी के एंजेलिक केर्बर का मुकाबला 12वीं सीड लात्विया की येलेना ओस्टापेंकों से होगा. पुरुष एकल में अर्जेटीना जुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने फ्रासं के गाइल्स सिमोन को 7-6, 7-6, 5-7, 7-6 से शिकस्त देकर क्वार्टर फाइनल में अपना स्थान पक्का किया. पोत्रो ने दो दिन तक चले इस मुकाबले को चार घंटे 24 मिनट में जीता. क्वार्टर फाइनल में डेल पोत्रो का सामना वर्ल्ड नंबर-1 स्पेन के राफेल नडाल से होगा.