शेन वॉटसन (Shane Watson) को आईपीएल में जितना सफल ऑलराउंडर माना जाता है उससे कहीं ज्‍यादा बड़े खिलाड़ी के तौर पर उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट में जाना जाता है. वॉटसन ने बताया कि ऑस्‍ट्रेलिया को दो बार विश्‍व कप जिताने वाले कप्‍तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) ही वो व्‍यक्ति हैं जिनके कारण वो इन बुलंदियों तक पहुंच पाए हैं. Also Read - आज ही के दिन राजस्थान रॉयल्स बना था IPL का पहला चैंपियन, ये 4 खिलाड़ी बने थे हीरो

शेन वॉटसन (Shane Watson) ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से बातचीत के दौरान कहा कि रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) ने ऑस्‍ट्रेलिया के लिए खेलने के दौरान उनकी काफी मदद की. “जो समर्थन मुझे मेरे करियर में रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) और शेन वार्न से मिला वो बेहतरीन था, खासकर पोंटिंग से. उन्होंने मुझ पर मुझसे ज्यादा विश्वास किया.” Also Read - विदेश में सर्वाधिक सेंचुरी जड़ने के मामले में भारतीय क्रिकेटर्स टॉप पर, सचिन नंबर वन तो कोहली नंबर टू

शेन वॉटसन (Shane Watson) ने कहा, “मुझे याद है जब हम विश्व कप 2007 जीते थे. मैं ट्रॉफी के साथ था और मैंने पोंटिंग को यह कहते हुए सुना कि मैं पिछले विश्व कप में नहीं था इसलिए वो मेरे यहां इस विश्व कप में होने से कितन खुश हैं.” Also Read - पूर्व दिग्गज शेन वार्न ने कहा- गिर रहा ऑस्ट्रेलियाई स्पिन गेंदबाजी का स्तर

वॉटसन ने साथ ही वार्न की एक रणनीतिकार के रूप में जमकर तारीफ की. “मैं राजस्थान रॉयल्स में शेन वार्न (Shane Warne) के साथ खेला हूं. वह बेहतरीन कप्तान हैं इसमें कोई शक नहीं है. रणनीतिकार के रूप में प्रबंधन के नजरिए से देखा जाए तो वह मैदान के अंदर और बाहर शानदार हैं.”

शेन वॉटसन ने कहा, “मेरे लिए रिकी पोंटिंग और वार्न मेरे पसंदीदा कप्तान रहे हैं. दोनों मेरे लिए काफी विशेष हैं.”