चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) की टीम अगले सीजन एक नई शक्ल में दिखाई देगी और इसकी शुरुआत अभी से शुरू हो चुकी है. बीते 3 सीजन से सीएसके में ओपनिंग की भूमिका निभा रहे ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर खिलाड़ी शेन वॉटसन (Shane Watson Retirement) ने फ्रैंचाइजी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी. वॉटसन अब दुनिया की किसी भी टी20 लीग में खेलते दिखाई नहीं देंगे. वॉटसन रविवार को चेन्नई के आखिरी मैच में भी प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं थे.Also Read - IPL 2021, CSK vs KKR: Shane Watson ने दिग्गज गेंदबाज से की Josh Hazlewood की तुलना, गेंदबाजी का सामना करना मुश्किल

39 वर्षीय वॉटसन ने पहले ही इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी. चेन्नई ने उन्हें 2018 में बोली लगाकर अपनी टीम में किया था. इस खिलाड़ी उस साल शानदार खेल दिखाते हुए चेन्नई को तीसरा खिताब दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. उस सीजन खिताबी मुकाबले में शतक जड़कर उन्होंने चेन्नई की जीत पक्की कर दी थी. Also Read - IPL 2021: शुबमन के साथ वेंकटेश अय्यर के ओपन करने से पूरी तरह बदल गई KKR: शेन वॉटसन

टाइम्सऑफइंडिया.कॉम में प्रकाशित एक खबर के अनुसार, शेन वॉटसन ने अपने संन्यास की खबर सबसे पहले सीएसके के खिलाड़ियों को सुनाई. इस दौरान वह भावुक थे. उन्होंने अपने साथी खिलाड़ियों से कहा कि सीएसके का हिस्सा होना उनके लिए सौभाग्य की बात थी. Also Read - कुलदीप यादव को भारत के श्रीलंका दौरे के लिए चुने जाने की उम्मीद; कहा- मौका मिलने पर प्रदर्शन करने को तैयार हूं

चेन्नई से पहले वॉटसन आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैगलोर का भी हिस्सा रह चुके हैं. आईपीएल के पहले सीजन में जब राजस्थान ने अपना एकमात्र खिताब अपने नाम किया था उसमें भी वॉटसन की भूमिका अहम थी. इस सीजन वॉटसन ने 11 मैच खेलकर 299 रन अपने नाम किए, जिनमें दो हाफ सेंचुरी भी शुमार थीं. लेकिन कई मौकों पर वह चेन्नई को मजबूत शुरुआत देने में नाकाम रहे.

इस दिग्गज खिलाड़ी ने अपने इंटरनैशनल करियर में 59 टेस्ट, 190 वनडे और 58 टी20 मैच खेले हैं. अपने पूरे आईपीएल करियर में उन्होंने कुल 145 मैच खेले हैं, जिनमें से 43 मैच उन्होंने सीएसके के लिए खेले हैं.