वैश्विक कोरोनावायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए दुनिया में लगभग सभी खेल की प्रतियोगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या उन्हें रद्द कर दिया गया है. इस आपदा को देखते हुए भारत के अनुभवी टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल ने इस वर्ष जुलाई-अगस्त में होने वाले टोक्यो ओलंपिक 2020 को रद्द करने की बात कही है. शरत का कहना है कि इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी (आईओसी) को कोविड-19 को देखते हुए खेलों के इस महाकुंभ का आयोजन नहीं करना चाहिए. Also Read - Delhi Lockdown News: केजरीवाल बोले- दिल्ली में कोरोना की स्थिति बेहद गंभीर, लॉकडाउन कब लगेगा दी यह जानकारी...

Coronavirus Effect: उस्‍मान ख्‍वाजा का लोगों को संदेश, हमें दूसरों के बार में भी सोचना होगा Also Read - Lockdown in MP: मध्‍य प्रदेश में लॉकडाउन की फोटोज, आंकड़े दे रहे बड़ी चेतावनी

शरत ने पिछले हफ्ते आईटीटीएफ ओमान ओपन खिताब अपने नाम किया था जो 10 साल में उनकी पहली ट्रॉफी थी. उन्होंने सोमवार को तड़के मस्कट से स्वदेश लौटने के बाद खुल को अलग रखा हुआ है. Also Read - COVID-19 in Gujarat: सोमनाथ मंदिर में दर्शन आज से बंद, गुजरात कल आए थे 5,011 नए

अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस महासंघ ने अपने सभी टूर्नामेंट अप्रैल के अंत तक स्थगित कर दिए हैं और अगले महीने बैंकॉक में होने वाली एशियाई ओलंपिक क्वालीफाइंग प्रतियोगिता भी अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो चुकी है.

37 साल के इस खिलाड़ी ने कहा, ‘खिलाड़ी होने के नाते मैं निश्चित रूप से चाहूंगा कि ओलंपिक का आयोजन हो लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए. वायरस का केंद्र बदलता रहेगा, पहले यह चीन था, अब यह इटली है और एशिया में ईरान भी बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. मुझे नहीं लगता कि यह ओलंपिक समय पर शुरू करने के लिये सुरक्षित है.’

शिखर धवन ने बेटे जोरावर के साथ जमकर की पिलो फाइट, रोहित-हार्दिक को भी दे डाला चैलेंज

उन्होंने कहा, ‘हर कोई सामुदायिक दूरी बनाने की बात कर रहा है लेकिन ओलंपिक में ऐसा संभव नहीं हो पायेगा. हजारों खिलाड़ी ओलंपिक गांव में ठहरे होंगे.’

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने अभी तक ओलंपिक पर कोई फैसला नहीं किया है और इसके अध्यक्ष थामस बॉक ने इस हफ्ते के शुरू में कहा था कि ऐसा करना जल्दबाजी होगी.

कोविड-19 के कारण दुनिया भर में अब तक 11,000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. शरत की विश्व रैंकिंग 38 है और 31वीं रैंकिंग पर काबिज जी साथियान अपनी रैंकिंग के आधार पर क्वालीफाई कर लेंगे, भले ही कोविड-19 के चलते क्वालीफिकेशन प्रतियोगितायें आयोजित नहीं हों.

शरत ने कहा, ‘इस समय कोई टूर्नामेंट नहीं चल रहा है तो रैंकिंग में कोई बदलाव नहीं होगा. अगर चीजें इसी तरह रहती हैं तो हमें अपनी रैंकिंग के आधार पर क्वालीफाई कर लेना चाहिए.’