भारतीय क्रिकेट टीम के सीनियर सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) का कहना है कि उन्हें तेज गेंदबाजों का सामना करने में कोई परेशान नहीं होती हालांकि वो पारी की पहली ही गेंद पर किसी पेसर का सामना करना पसंद नहीं करते। धवन ने पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान (Irfan Pathan) के साथ इंस्टाग्राम पर बातचीत में ये बात कबूल की। Also Read - इयान बिशप ने चुनी दशक की सर्वश्रेष्ठ ODI टीम; महेंद्र सिंह धोनी बने कप्तान, बुमराह को जगह नहीं

धवन ने ये बात दिग्गज सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और डेविड वॉर्नर (David Warner) की हालिया बयान के जवाब में कही। उन्होंने कहा, “नहीं, नहीं, मैं इससे असहमत हूं। ऐसा नहीं है कि मैं तेज गेंदबाजों का सामना नहीं करना चाहता हूं। हर किसी की अपनी राय होती है। मैं सलामी बल्लेबाज हूं। मैं पिछले 8 साल से भारत के लिए ये भूमिका निभा रहा हूं इसलिए मुझे निश्चित तौर पर तेज गेंदबाजों का सामना करना होता है। अगर मैं पहले ओवर में उनका सामना नहीं करता हूं तो मुझे दूसरे ओवर में तो उनका सामना करना ही होगा।’ Also Read - बीसीसीआई को भरोसा, भारत से टी20 विश्व कप की मेजबानी छीनकर 'आत्महत्या' नहीं करेगी ICC

पहले स्ट्राइक नहीं लेने को लेकर धवन की राय स्पष्ट है लेकिन उन्होंने इसे मानसिकता से जुड़ा मसला बताया। उन्होंने कहा, “हां, मैं मैच की पहली गेंद पर स्ट्राइक लेना पसंद नहीं करता और इसको लेकर मैं पूरी तरह से ईमानदार हूं लेकिन जब पृथ्वी शॉ जैसा कोई युवा टीम में आता है और वह पहली गेंद खेलने को लेकर असहज रहता है तो निश्चित तौर पर मैं स्ट्राइक लूंगा। लेकिन रोहित के साथ इसकी शुरुआत चैंपियंस ट्रॉफी से हुई जहां मैंने उससे स्ट्राइक लेने को कहा और यह आगे भी जारी रहा क्योंकि मैं चीजों में बहुत बदलाव पसंद नहीं करता।” Also Read - अक्टूबर-नवंबर में ही खेला जाएगा IPL; 2022 तक स्थगित हो सकता है टी20 विश्व कप

दिल्ली के इस खिलाड़ी ने कहा कि तेज गेंदबाजों के लिए अनुकूल परिस्थितियों में तेज गेंदबाज का सामना करना किसी भी सलामी बल्लेबाज के लिए चुनौती होती है। उन्होंने कहा, ‘बेशक अगर हम इंग्लैंड में तेज गेंदबाजों के लिए अनुकूल परिस्थितियों में खेल रहे हों तो यह हर किसी के लिए चुनौतीपूर्ण होता है। ऐसा नहीं है कि मैं तेज गेंदबाजों का सामना नहीं करना चाहता।”

वार्नर-रोहित ने मिलकर उड़ाई थी धवन की खिल्ली

वार्नर और रोहित ने हाल में धवन के साथ पारी की शुरुआत करने को लेकर बात की थी। वॉर्नर ने कहा था, ‘मुझे याद है कि उसने (धवन) केवल एक बार तब पहली गेंद खेली थी जब हरभजन सिंह गेंदबाजी कर रहा था।’

दूसरी तरफ रोहित ने धवन के बारे में कहा, ‘वो हमेशा कहता है कि अगर बाएं हाथ का तेज गेंदबाज गेंद कर रहा हो तो ‘तुम स्ट्राइक लेना क्योंकि मुझे अंदर आती गेंद पसंद नहीं हैं।’

रोहित ने कहा, ‘वो बेवकूफ है, मैं क्या कह सकता हूं। उसे पहली गेंद का सामना करना पसंद नहीं है। वो स्पिनरों के सामने पहली गेंद खेलना पसंद करता है लेकिन तेज गेंदबाजों के सामने नहीं।’