पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्‍तर ने आईसीसी के टेस्‍ट क्रिकेट को पांच से घटाकर चार दिन का करने के विचार पर कड़ी प्रतिक्रिया दी. उन्‍होंने इसे एशियाई टीमों के खिलाफ साजिश करार देते हुए कहा कि बीसीसीआई इसे लागू करने की मंजूरी कभी नहीं देगा.

आईसीसी ने 2023 से 2031 तक की अपनी भविष्‍य की योजना में टेस्‍ट क्रिकेट को चार दिनों का करने का प्रस्‍ताव रखा है. सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली व रिकी पोंटिंग जैसे दिग्‍गज पहले ही इस प्रस्‍ताव के खिलाफ अपना बयान दे चुके हैं.

पढ़ें:- इरफान पठान बोले- मैंने किया था कुमार संगाकारा की पत्‍नी को लेकर कमेंट क्‍योंकि उन्‍होंने…

शोएब अख्‍तर ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर कहा, “दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड बीसीसीआई इसे कभी लागू नहीं होने देगा. बीसीसीआई के साथ-साथ सभी स्‍मार्ट क्रिकेटर इस प्रस्‍ताव के खिलाफ हैं. खासतौर पर श्रीलंका, पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश के स्पिनर जो टेस्‍ट में डॉमिनेट करते हैं.”

बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुल एक स्‍मार्ट क्रिकेटर हैं. वो नहीं चाहेंगे कि टेस्‍ट क्रिकेट को कभी भी नुकसान पहुंचे. भारत टेस्‍ट क्रिकेट में सबसे अच्‍छा है. गांगुली चाहेंगे कि टेस्‍ट ऐसे ही चलता रहे.

पढ़ें:- श्रीलंका के खिलाफ रन बनाना कोई मायने नहीं रखते, केएल राहुल के आगे शिखर धवन कुछ नहीं : श्रीकांत

शोएब अख्‍तर ने सचिन द्वारा चार दिन के टेस्‍ट वाले विचार को नकारते हुए की गई टिप्‍पणी का समर्थन किया. उन्‍होने कहा, ” दानिश कनेरिया, मुश्‍ताक अहमद, रविचंद्रन अश्विन, हरभजन सिंह, अनिल कुंबले जैसे स्पिनर टेस्‍ट में 400-500 विकेट ले चुके है. उनका अब क्‍या होगा. चार दिन का टेस्‍ट स्पिनर्स को मिलने वाले एडवांटेज को खत्‍म कर देगा.”