पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का मानना है कि कप्तानी से हटाए जाने के बाद अब पाकिस्तान क्रिकेट की टीम में सरफराज अहमद को जगह नहीं मिलेगी.Also Read - BAN vs PAK- पहला टेस्ट, पहली पारी में 330 रन पर सिमटा बांग्लादेश, पाकिस्तान की ठोस शुरुआत

Also Read - पाकिस्तान दौरे के लिए वेस्टइंडीज टीम का ऐलान; आंद्रे रसेल, शिमरोन हेटमायर समेत चार खिलाड़ियों ने नाम वापस लिया

INDvSA, 3rd Test: ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा के 2, 000 टेस्ट रन पूरे, विंडीज बल्लेबाज को पछाड़ बने ‘सिक्सर’ किंग Also Read - Shoaib Akhtar को बड़ी राहत, एंकर से बदसलूकी मामले पर PTV ने कानूनी नोटिस वापस लिया

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि सरफराज टेस्ट और टी-20 में पाकिस्तान की कप्तानी नहीं करेंगे.

अख्तर ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ‘मुझे पता था कि सरफराज के साथ ऐसा होगा. इसके लिए केवल वह दोषी हैं. मैं उन्हें दो साल से कह रहा था कि अपने प्रदर्शन में सुधार करो.’

कप्तानी से हटाए जाने के अलावा, सरफराज को ऑस्ट्रेलिया दौर के लिए भी टीम में शामिल नहीं किया गया है. पाकिस्तान की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टी-20 और दो टेस्ट मैच खेलेगी.

अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘यह स्थिति उन्हीं की गलती के कारण पैदा हुई है. इसमे किसी और को दोष नहीं दिया जा सकता. मैं आपसे यह भी कहना चाहूंगा कि चयनकर्ता अब उन्हें टीम में भी नहीं रखेंगे और मैं इसकी गारंटी दे सकता हूं. वह सरफराज को टीम में मौका नहीं देंगे.’

युवराज सिंह ने BCCI की चुटकी ली- काश सौरव गांगुली तब अध्यक्ष होते जब यो-यो टेस्ट चरम पर था

अख्तर ने कहा कि सरफराज की कप्तानी में कभी आत्मविश्वास नहीं झलका.

उन्होंने कहा, ‘पिछले दो साल से हम उनकी सकारात्मक मानसिकता और आक्रामक बल्लेबाजी को ढूंढ़ रहे हैं. वह मिकी आर्थर के प्रभाव से बाहर नहीं निकल सके और कोई भी निर्णय लेने में असमर्थ थे. वह चयन करने में भी असमर्थ थे. मुझे लगता है कि वह एक ऐसे कप्तान थे जिसमें आत्मविश्वास की कमी थी.’

अनुभवी अजहर अली को टेस्ट तथा बाबर आजम को अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप तक सबसे संक्षिप्त फार्मेट की टीम की कमान सौंपी गई है.