नई दिल्ली: शुभमान गिल ने शानदार शतक जड़कर इंडिया सी को गुरुवार को इंडिया ए पर छह विकेट से जीत दिलाकर देवधर ट्रॉफी एकदिवसीय टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा दिया. अंडर-19 स्टार गिल ने तीन चयनकर्ताओं की मौजूदगी में 111 गेंदों पर नाबाद 106 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके और तीन छक्के लगाये.

294 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंडिया सी के तीन विकेट 85 रन पर गिर गए. ऐसे समय में गिल ने पारी संभाली. उन्हें इशान किशन (60 गेंदों पर 69 रन) और सूर्यकुमार कुमार यादव (36 गेंदों पर नाबाद 56) का अच्छा सहयोग मिला जिससे इंडिया सी 47 ओवर में चार विकेट पर 296 रन बनाकर शनिवार को होने वाले फाइनल में जगह बनाने में सफल रहा.

गिल की यह विशेष पारी केदार जाधव की अपने वापसी मैच में धुआंधार पारी के बाद देखने को मिली. जाधव ने डेथ ओवरों में 25 गेंदों पर 41 रन बनाकर इंडिया ए का स्कोर छह विकेट पर 293 रन तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभायी. इंडिया ए को शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों अभिमन्यु ईश्वरन (103 गेंदों पर 69 रन), अनमोलप्रीत सिंह (56 गेंदों पर 59) और नितीश राणा (76 गेंदों पर 68 रन) ने अर्धशतक जड़कर अच्छी शुरुआत दिलायी थी.

विराट के 10 हजारी बनने पर वर्ल्ड क्रिकेट ने किया सलाम, पाकिस्तान बोला – ‘वाह जनाब’!

लक्ष्य हासिल करना आसान नहीं था लेकिन गिल ने किशन के साथ 121 और सूर्यकुमार के साथ 90 रन की अटूट साझेदारी करके इंडिया सी को यादगार जीत दिलायी. उन्होंने पंजाब के अपने साथी सिद्धार्थ कौल के ओवर में शतक जमाया और फिर इसी ओवर में विजयी चौका लगाया. रविचंद्रन अश्विन, कौल, धवल कुलकर्णी और मोहम्मद सिराज जैसे गेंदबाजों के सामने गिल को रन बनाने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. इंडिया सी के कप्तान अंजिक्य रहाणे (25 गेंदों पर 14 रन) फिर से नहीं चल पाये. अभिनव मुकुंद ने 40 गेंदों पर 37 रन बनाये. इससे पहले जाधव ने महत्वपूर्ण पारी खेली. उन्हें मासंपेशियों में खिंचाव के कारण वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के लिये टीम में नहीं चुना गया है.

Ind Vs WI : अंतिम तीन वनडे मैचों के लिए टीम में लौटे बुमराह और भुवी, शमी बाहर

इंडिया ए ने टॉस जीतकर ठोस शुरुआत की. ईश्वरन और अनमोलप्रीत ने पहले विकेट के लिये 99 रन जोड़े. पृथ्वी शॉ चोटिल होने के कारण इस मैच में नहीं खेले. उनके स्थान पर अंतिम एकादश में जगह बनाने वाले ईश्वरन ने धीमी बल्लेबाजी की. ईश्वरन ने राणा के साथ भी 76 रन की साझेदारी की. कप्तान दिनेश कार्तिक (23 गेंदों पर 32 रन) लंबे समय तक नहीं टिक पाये. भारत ए का स्कोर 40 ओवर के बाद तीन विकेट पर 201 रन था. जाधव ने यहीं से तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की. उन्होंने अपनी पारी में दो चौके और दो छक्के लगाये.