नई दिल्ली. इंतजार की घड़िया खत्म हुई. शुभमन गिल के टीम इंडिया के लिए खेलने का सपना साकार हुआ. अब तक जिस नाम के चर्चे हर जुबां पर थे, दुनिया अब उसके करतब देखेगी. बल्ले से उसका धमाल देखेगी. पंजाब का धाकड़ बल्लेबाज और भारत की अंडर 19 वर्ल्ड कप जीत के सुपरहीरो को टीम इंडिया की सीनियर टीम से खेलने का लाइसेंस मिल गया. शुभमन को ये लाइसेंस धोनी ने वनडे कैप के तौर पर दिया. इसी के साथ वो भारत के लिए वनडे डेब्यू करने वाले 227वें क्रिकेटर बन गए हैं.

धोनी ने गिल को दी वनडे कैप

शुभमन को वनडे में डेब्यू का मौका उसी देश की सरजमीं पर मिला जहां उन्होंने पिछले साल भारत को अंडर 19 विश्व कप का ताज दिलाया था. गिल ने 5 मैचों में 100 से भी ज्यादा की औसत से 418 रन बनाए थे और प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बने थे. उस कामयाबी के एक साल बाद गिल के सामने टीम इंडिया की सीनियर टीम के लिए चमकने का मौका है. अच्छी बात ये है कि उन्हें धोनी ने वनडे कैप दी है, जिनसे कैप लेने वाले खिलाड़ी का स्टार बनना तय होता है. हार्दिक पंड्या इसके सबसे बड़े उदाहरण हैं.

विराट ने पहले ही दिए थे संकेत

बहरहाल, हैमिल्टन वनडे में गिल विराट की जगह पर बल्लेबाजी के लिए उतरेंगे. बता दें कि गिल के डेब्यू करने को लेकर हिंट विराट कोहली ने तीसरे वनडे में मिली जीत के बाद ही दे दिया था. यही नहीं उसके बाद पूर्व कप्तान सौरव गांगुली और सुनील गावस्कर ने भी उन्हें आजमाने की वकालत की थी. यही वजह है कि गिल आज टीम इंडिया की जर्सी में हैं.

रोहित के 200वें वनडे पर खेलेंगे पहला मैच

हैमिल्टन वनडे, जिससे गिल का डेब्यू हो रहा है, रोहित शर्मा का 200वां वनडे हैं. यही नहीं इस मुकाबले में रोहित कप्तानी कर रहे हैं क्योंकि विराट टीम में नहीं है. यानी, गिल का डेब्यू रोहित की कप्तानी में हुआ है. यही नहीं जब रोहित अपना 200वां वनडे खेल रहे होंगे तब गिल अपना पहला मुकाबला खेलेंगे. सीधे शब्दों में कहें तो रोहित के मुकाबले 200 वनडे जूनियर होंगे शुभमन गिल.