नई दिल्ली : महिला टी-20 चैलेंज 2019 का पहला मुकाबला सुपरनोवाज और ट्रेलब्लेजर्स के बीच खेला गया. स्मृति मंधाना की कप्तानी में ट्रेलब्लेजर्स ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 2 रन से रोमांचक जीत हासिल की. इस मुकाबले में स्मृति ने 10 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 90 रन की शानदार पारी खेली. इस जीत के बाद कप्तान मंधाना ने बताया कि उन्होंने आखिरी ओवर में झूलन गोस्वामी को यॉर्कर बॉल फेंकने को कहा. लेकिन वो ऐसा नहीं कर पा रही थी. Also Read - Live Streaming TRA vs SUP Final: जानें कब और कहां देखें महिला टी20 चैलेंज फाइनल का Live Telecast

दरअसल सुपरनोवाज को आखिरी ओवर में 19 रनों की जरूरत थी. इस दौरान ट्रेलब्लेजर्स ने आखिरी ओवर झूलन को दिया. लेकिन झूलन की शुरुआत बहुत ही खराब रही. उन्होंने इस ओवर में 4 चौके दे दिए. लेकिन आखिरी बॉल डॉट फेंक दी. इस ओवर का जिक्र करते हुए मंधाना ने कहा, हम चाहते थे कि झूलन यॉर्कर बॉल फेंके. लेकिन वो इस योजना पर काम नहीं कर सकीं. इसके बाद सूजी बेट्स ने उन्हें ऑफ स्टम्प की ओर बॉल फेंकने को कहा. स्मृति ने स्पिनर्स का जिक्र करते हुए कहा, हमारे स्पिनर्स ने अच्छी बॉलिंग की. ये अगले मुकाबले में भी सहायक साबित होंगे. Also Read - Women's T20 Challenge 2020 Trailblazers vs Supernovas Dream11 Team Prediction: खिताबी हैट्रिक पर होगी सुपरनोवाज की नजर, इन खिलाड़ियों के साथ उतर सकती हैं ट्रेलब्लेजर्स और सुपरनोवाज टीमें

यो-यो टेस्ट में फेल होने पर बोले शमी, घर की समस्याओं से जूझ रहा था Also Read - Trailblazers vs Supernovas Highlights: सुपरनोवा ने रोमांचक मुकाबले में ट्रेलब्लेजर्स को हरा फाइनल में बनाई जगह

गौरतलब है कि जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में ट्रेलब्लेजर्स ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 140 रन बनाए. इस दौरान स्मृति ने 67 गेंदों का सामना करते हुए 90 रन बनाए. जबकि हरलिन देओल ने 44 गेंदों का सामना करते हुए 36 रन का योगदान दिया. इसके जवाब में सुपरनोवाज की टीम 138 रन ही बना सकी. टीम के लिए सर्वाधिक 46 रन कप्तान हरमनप्रीत कौर ने बनाए. उन्होंने 34 गेंदों का सामना करते हुए 8 चौके भी लगाए. इसके अलावा सोफीया डिवाइन ने 32 रन की अच्छी पारी खेली.