लॉकडाउन (Lockdown) के चलते मौजूदा समय में क्रिकेट संबंधित गतिविधियों तो बंद हैं लेकिन इसके बावजूद क्रिकेटर्स सोशल मीडिया के माध्‍यम से फैन्‍स का खूब इंटरटेनमेंट कर रहे हैं. हाल ही में भारतीय महिला टीम की स्‍टार बल्‍लेबाज स्‍मृति मंधाना (Smriti Mandhana) ने मोहम्‍मद शमी (Mohammed Shami) के साथ जुड़े उनके एक मजेदार किस्‍से का साझा किया. Also Read - वीवीएस लक्ष्‍मण ने इस दिग्‍गज को दिया भारतीय तेज गेंदबाजी में क्रांति लाने का श्रेय

यू-ट्यूब शो डबल ट्रबल में साथी बल्‍लेबाज जेमिमा रोड्रिगेज के साथ चैट के दौरान स्‍मृति मंधाना ने बताया कि कैसे 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आ रही मोहम्‍मद शमी की तेज गेंद उनकी जांघ पर आकर लग गई थी. जिसके बाद उन्‍हें अगले 10 दिन तक खेल से दूर रहना पड़ा. Also Read - पेसर मोहम्मद शमी बोले-हम अब भी सोचते हैं कि माही भाई आएंगे और...

मंधाना ने बताया, “मुझे याद है कि रिहैब की प्रक्रिया के दौरान मैं शमी भईया (मोहम्‍मद शमी) की गेंदों को खेल रही थी. वो हमारे लिए 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धीमी गेंद फेंक रहे थे. उन्‍होंने मुझे वादा किया था कि वो गेंद को मेरे शरीर की तरफ नहीं फेंकेंगे. उन्‍होंने मुझे विश्‍वास दिलाया था कि गेंद पांचवें या छठे स्‍टंप की तरफ ही आएगी.” Also Read - हसीन जहां ने इंस्‍टाग्राम पर शेयर की न्‍यूड पिक्‍चर, मोहम्‍मद शमी पर कसा तंज, मचा बवाल

“पहली दो गेंद को खेलने से मैं बीट हो गई क्‍योंकि मुझे इतनी तेज गेंदबाजी को खेलने का अभ्‍यास नहीं था. उन्‍होंने तीसरी गेंद इन-डीपर डाली, जो मेरी जांघ पर जाकर लगी. मेरी जांघ अगले 10 दिन तक सूजी रही.”

साल 2013 में अंतरराष्‍ट्रीय डेब्‍यू करने वाली स्‍मृति मंधाना देखते ही देखते भारतीय महिला टीम की स्‍टार बल्‍लेबाज बन गई. बाएं हाथ की बल्‍लेबाज स्‍मृति ने भारत के लिए 50 वनडे मैच खेलकर कुल 2,025 रन बनाए हैं. 23 साल की इस बल्‍लेबाज के नाम 75 टी20 मैचों में 1,716 रन हैं.