कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें एडिशन को अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया गया है. इस वर्ष इसका आयोजन 29 मार्च से होना था. ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि बीसीसीआई इसका आयोजन अक्टूबर-नवंबर में करने की सोच रहा है लेकिन ये तभी मुमकिन है जब इस साल ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के शेड्यूल को आगे खिसका दिया जाए. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,505 नए मामले सामने आए, 10 लाख की आबादी पर किए जा रहे 32,650 टेस्ट

गांगुली ने सभी स्टेट एसोसिएशन को लिखा पत्र  Also Read - आकाश चोपड़ा ने गांगुली की दुखती रग पर रखा हाथ, 'IPL के शुरुआती दौर में कोच ने दादा से....'

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बुधवार को सभी राज्य क्रिकेट संघ को पत्र लिखकर कहा है कि वह स्थगित हुए आईपीएल को इस साल कराने के लिए प्रतिबद्ध है. चाहे यह टूर्नामेंट खाली स्टेडियम में ही क्यों ना आयोजित कराना पड़े. गांगुली ने सभी सदस्यों को भेजे पत्र में कहा है कि बोर्ड आईपीएल की संभावनाओं पर काम कर रहा है. Also Read - चीन की बढ़ेंगी मुश्किलें! कहां से निकला कोरोना वायरस? जांच के लिए अगले हफ्ते चाइना जाएगी डब्ल्यूएचओ की टीम

घरेलू क्रिकेट की प्रक्रिया शुरू करने की सोच रहा बीसीसीआई 

47 वर्षीय गांगुली ने अपने पत्र में कहा कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के चलते सभी खेल गतिविधियां स्थगित हैं. ट्रेनिंग और प्रतियोगी क्रिकेट अगले दो माह में शुरू हो सकता है. उन्होंने कहा, ‘बीसीसीआई सभी राज्यों की क्रिकेट एसोसिएशंस के लिए कोविड-19 स्टेंडर्ड ऑपरेशन प्रोसिजर (SOP) तैयार करने की सोच रहा है. ताकि सभी सदस्य इसके मानकों को अपना सकें.’

घरेलू क्रिकेट के बारे में गांगुली ने कहा, ‘हमें आगे बढ़ना है. बीसीसीआई अगले क्रिकेट सीजन में प्रतियोगी क्रिकेट की प्रक्रिया शुरू करने की सोच रहा है. हम विभिन्न फॉर्मेट और विकल्पों पर सोच रहे हैं, ताकि विभिन्न घरेलू टूर्नामेंट हो सकें.’

पिछले 2 महीनों से क्रिकेट की सभी गतिविधियां ठप्प हैं 

कोरोनावायरस के कारण पिछले दो महीने से क्रिकेट की सभी प्रतियोगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या उन्हें रद्द कर दिया गया है. इस साल आयोजित होने वाला टोक्यो ओलंपिक भी कोविड-19 के चलते अब अगले साल होगा.