नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम में कई बेहतरीन कप्तान हुए हैं. इनमें सबसे अलग छवि सौरव गांगुली की है. गांगुली ने टीम इंडिया को एक नए मुकाम पर पहुंचाया. इसके साथ ही टीम इंडिया को आक्रामक बना का श्रेय भी गांगुली को ही जाता है. आज इस दिग्गज खिलाड़ी का जन्मदिन हैं. वर्ल्ड क्रिकेट में दादा के नाम से मशहूर गांगुली का जन्म 8 जुलाई 1972 को कोलकाता में हुआ था. दादा के जन्मदिन के मौके पर पढ़ें उनके कुछ खास रिकॉर्ड… Also Read - Sourav Ganguly Getting Well: तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं दादा! बेटी Sana Ganguly ने शेयर की ये डैसिंग तस्वीर

  • दादा ने अपने डेब्यू मैच में बेहतरीन शतक जड़ा था. उन्होंने इंग्लैंड के लॉर्ड्स में 131 रन बनाए थे. वो डेब्यू मैच में शतक जड़ने वाले विश्व क्रिकेट के तीसरे खिलाड़ी बन गए थे.
  • भारतीय टीम ने गांगुली की कप्तानी में 49 टेस्ट मैच खेलते हुए 21 मैचों में जीत हासिल की. जब कि 13 मैच में हार का सामना किया. इसके अलावा 15 टेस्ट मुकाबले ड्रॉ रहे. वनडे फॉर्मेट की बात करें तो टीम इंडिया ने गांगुल की कप्तानी में 146 वनडे मैच खेले. इस दौरान 76 जीते और 65 मैचों में हार का सामना किया. इसके साथ ही 5 मैचों का रिजल्ट नहीं आया.

धोनी के जन्मदिन पर पांड्या ने स्पेशल गिफ्ट, लेकिन कहा ”इसे घर पर करने की कोशिश न करें” Also Read - IPL 2021: पूरा आईपीएल टूर्नामेंट खेलेंगे न्यूजीलैंड के खिलाड़ी; बोर्ड ने किया NoC देने का ऐलान

  • टीम इंडिया को 20 से ज्यादा टेस्ट मैचों में जीत दिलाने वाले सौरव गांगुली पहले कप्तान हैं. उनकी कप्तानी में भारत ने लगातार 21 टेस्ट जीते. इससे पहले मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में भारत ने 14 टेस्ट मैच जीते थे. दादा का यह रिकॉर्ड टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने तोड़ा. धोनी की कप्तानी में टीम ने 27 टेस्ट मैच जीते.
  • सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रनों की साझेदारी करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है. इन दोनों ने 176 वनडे पारियों में 8227 रनों की साझेदारी की है.

इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टी-20 मैच, सीरीज पर होगी टीम इंडिया की नजर Also Read - BCCI प्रमुख Sourav Ganguly की पत्नी Dona Ganguly ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत, जानें क्या है पूरा मामला...

  • भारत से बाहर सबसे ज्यादा सेंचुरी मारने के मामले में दादा दूसरे नंबर पर हैं. उन्होंने भारत से बाहर 18 सेंचुरी जड़ी हैं. इस मामले में उनसे ऊपर सिर्फ सचिन तेंदुलकर ही हैं. तेंदुलकर ने भारत के बाहर 29 सेंचुरी जड़ी हैं.