बीसीसीआई के नवनिर्वाचित अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) चाहते हैं कि महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) युवा खिलाड़ियों को बेहतर बनाने के लिए काम करें.

एक सूत्र ने कहा कि इस नए रोल के लिए सचिन को मनाने की प्रक्रिया अभी भी शुरुआती स्टेज पर है, लेकिन गांगुली चाहते हैं कि सचिन आगामी स्टार खिलाड़ियों को बेहतर करने का काम करें.

पढ़ें:- दिल्‍ली टी20 से पहले भारत को बड़ा झटका, रोहित शर्मा प्रैक्टिस सेशन के दौरान हुए चोटिल

सूत्र ने कहा, “प्रक्रिया शुरू कर दी गई है, लेकिन इस पर बयान देना अभी जल्दबाजी होगी. लेकिन, अगर सभी चीजें योजना के अनुसार रही तो आप शुभमन गिल, रिषभ पंत या पृथ्वी शॉ को दिग्गजों के साथ समय बिताते हुए देख सकते हैं. वे न केवल क्रिकेट स्किल बल्कि खेल के मानसिक पक्ष पर भी चर्चा कर सकते हैं.”

उन्होंने कहा, “नए खिलाड़ियों के साथ अपने अनुभव को साझा करने के लिए 24 साल तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी से बेहतर कौन हो सकता है? भारतीय क्रिकेट के भविष्य को ध्यान में रखते हुए यह एक और मास्टरस्ट्रोक हो सकता है.”

पढ़ें:- ‘दिल्‍ली की परिस्थितियां खेलने लायक नहीं ल‍ेकिन तीन घंटे में कोई मर नहीं जाएगा’

यह पूछे जाने कि क्या तेंदुलकर राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) का दौरा करेंगे. सूत्र ने कहा, “यह इस तरह से किया जाना चाहिए कि तेंदुलकर के संबंध में हितों के टकराव का मुद्दा न उठे. इन चीजों पर काम करने की जरूरत है.”

बीसीसीआई अध्यक्ष बनते ही गांगुली ने कहा था कि वह भारतीय क्रिकेट को आगे बढ़ाने के लिए दिग्गजों की सहायता जरूर लेंगे.