नई दिल्ली : पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने आगामी विश्व कप में तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर के अच्छा प्रदर्शन करने का समर्थन करते हुए कहा कि इंग्लैंड के हालात में उनकी गेंदबाजी उपयोगी होगी. ब्रिटेन में 30 मई से होने वाले विश्व कप की टीम में अंबाती रायुडू पर विजय शंकर को तरजीह देने पर सवाल उठाए गए थे लेकिन चयनकर्ताओं ने कहा कि था कि उन्होंने तमिलनाडु के खिलाड़ी को उसके ‘त्रिआयामी कौशल’ के कारण चुना.

आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार गांगुली ने कहा, ‘‘विजय शंकर अच्छा करेगा. वह अच्छा युवा क्रिकेटर है. उसकी गेंदबाजी उपयोगी साबित होगी. उसे लेकर अधिक नकारात्मक होने की जरूरत नहीं है. उसे टीम में जगह मिली क्योंकि वह आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेला और वहां अच्छा प्रदर्शन किया.’’

गांगुली ने साथ ही कहा कि टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे प्रतिभावान ऋषभ पंत को चयन नहीं होने पर निराश नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘हां, पंत भी इस टीम का हिस्सा हो सकता था लेकिन उसे चिंता करने की जरूरत नहीं है. उसमें काफी साल का खेल बाकी है. वह सिर्फ 20 साल का है, वह कुछ विश्व कप खेलेगा.’’

वॉर्नर ने घर वापसी से पहले टीम के लिए लिखा इमोशनल मैसेज

जब यह पूछा गया कि भारत क्या तीन मुख्य तेज गेंदबाजों के साथ खिताब जीत सकता है तो गांगुली ने कहा कि टीम इसी तरह खेलना चाहती है और सातवें नंबर पर आलराउंडर को उतारना चाहती है. उन्होंने कहा, ‘‘पांड्या पहली पसंद है. अगर वह चोटिल होता है तो रविंद्र जडेजा. इससे टीम तीन तेज गेंदबाजों को खिला पाएगी. अगर कोई चोटिल होता है तो सिर्फ 10 घंटे की उड़ान है.’’

लोकेश राहुल ने हैदराबाद से मिली हार के बाद धीमी शुरुआत का किया बचाव

आगामी 50 ओवर के विश्व कप के संदर्भ में गांगुली ने कहा कि यह टूर्नामेंट अपने प्रारूप के कारण काफी प्रतिस्पर्धी होती जिसमें सभी टीमें लीग चरण में एक दूसरे के खिलाफ खेलेंगी.मौजूदा आईपीएल में कुलदीप यादव की खराब फार्म विश्व कप से पहले चिंता का कारण बन रही है और इस बारे में पूछने पर गांगुली ने कहा कि ईडन गार्डन्स की पिच से स्पिनरों को अधिक मदद नहीं मिलती और उन्होंने इस चाइनामैन गेंदबाज के अच्छा प्रदर्शन करने का समर्थन किया.

उन्होंने कहा, ‘‘ईडन गार्डन्स की पिच पर कोई अच्छी गेंदबाजी नहीं करता. आपको 220 और 230 रन के स्कोर दिखते हैं. जितने रन बनाए गए उन्हें देखिए. कुलदीप में काफी प्रतिभा है, कभी कभी हम गेंदबाज को टी20 क्रिकेट के आधार पर परखते हैं जो करना सर्वश्रेष्ठ नहीं है विशेषकर स्पिनरों के साथ. वह अच्छी वापसी करेगा.’’