इंग्लैंड की टीम अगले साल फरवरी-मार्च 2021 में भारत का दौरा करेगी. इस बार इंग्लिश टीम के यहां 5 टेस्ट मैच खेलने की योजना थी लेकिन आखिरकार दोनों देशों ने इस दौरे पर 4 टेस्ट, 3 वनडे और 5 टी20I मैचों की सीरीज खेलने पर सहमति जताई है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने मंगलवार को इसकी पुष्टि कर दी.Also Read - केएल राहुल की कप्तानी की सबसे बड़ी परीक्षा होगी Ind vs SA टी20 सीरीज, हर कदम पर कड़ी निगरानी रखेगा बोर्ड

पहले इंग्लैंड की टीम को इसी साल अक्टूबर नवंबर में यह भारत का यह दौरा करना था. तब इंग्लैंड को यहां 3 टी20I और इतने ही वनडे मैच खेलने थे. लेकिन कोविड- 19 की बिगड़ी स्थिति को देखते हुए इस दौरे को रद्द कर दिया गया था. Also Read - IPL 2022- Qualifiers 2, RR vs RCB: विश्वास से भरी बैंगलोर के सामने राजस्थान की अग्नि-परीक्षा

3 टी20 मैचों की जगह 5 टी20I मैचों की सीरीज के पीछे की वजह बताते हुए गांगुली ने कहा, कि ‘2021 टी20 वर्ल्ड कप का साल है. इस बार भारत यह टूर्नामेंट की अक्टूबर-नवंबर में मेजबानी करेगा. इसीलिए अतिरिक्त टेस्ट (5वां टेस्ट) को हटाकर हमने 2 अतिरिक्त टी20I मैच खेलना सही समझा. बीसीसीआई को पूरी उम्मीद है कि वह इस दौरे भारत में ही सफलता से आयोजित करेगा.’ Also Read - एलिमिनेटर मैच में शतक जड़कर हीरो बने Rajat Patidar, विराट ने बताया सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक

सौरव गांगुली मंगलवार को एक वर्चुअल मीडिया प्रोग्राम में उपस्थित थे. यहां उन्होंने बताया कि इंग्लैंड भारत दौरे पर 4 टेस्ट, 3 वनडे और 5टी20I मैचों की सीरीज खेलेगा. उन्होंने कहा कि इन मुश्किल हालात में अभी द्विपक्षीय सीरीज खेलना आसान है, बजाए कि 8-9 या 10 टीमों के साथ खेला जाए, लेकिन हमें स्थिति का आकलन करते रहना होगा.

उन्होंने कहा, ‘IPL 2020 की मेजबानी करने वाला यूएई इंग्लैंड के इस दौरे के लिए बैकअप स्थान के तौर पर रहेगा.’ उन्होंने कहा, ‘यह सिर्फ इंग्लैंड के दौरे के लिए नहीं बल्कि आईपीएल 2021 के लिए बैकअप में रहेगा क्योंकि उसकी शुरुआत भी इंग्लैंड दौरे के कुछ दिन बाद ही होगी.’