इंग्लैंड की टीम अगले साल फरवरी-मार्च 2021 में भारत का दौरा करेगी. इस बार इंग्लिश टीम के यहां 5 टेस्ट मैच खेलने की योजना थी लेकिन आखिरकार दोनों देशों ने इस दौरे पर 4 टेस्ट, 3 वनडे और 5 टी20I मैचों की सीरीज खेलने पर सहमति जताई है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने मंगलवार को इसकी पुष्टि कर दी. Also Read - ICC Test Batting Rankings: मार्नस लाबुशेन से भी पिछड़े Virat Kohli, Rishabh Pant ने किया कमाल

पहले इंग्लैंड की टीम को इसी साल अक्टूबर नवंबर में यह भारत का यह दौरा करना था. तब इंग्लैंड को यहां 3 टी20I और इतने ही वनडे मैच खेलने थे. लेकिन कोविड- 19 की बिगड़ी स्थिति को देखते हुए इस दौरे को रद्द कर दिया गया था. Also Read - IND vs ENG: पहले 2 टेस्ट के लिए टीम इंडिया का ऐलान, Ishant Sharma और Hardik Pandya की वापसी

3 टी20 मैचों की जगह 5 टी20I मैचों की सीरीज के पीछे की वजह बताते हुए गांगुली ने कहा, कि ‘2021 टी20 वर्ल्ड कप का साल है. इस बार भारत यह टूर्नामेंट की अक्टूबर-नवंबर में मेजबानी करेगा. इसीलिए अतिरिक्त टेस्ट (5वां टेस्ट) को हटाकर हमने 2 अतिरिक्त टी20I मैच खेलना सही समझा. बीसीसीआई को पूरी उम्मीद है कि वह इस दौरे भारत में ही सफलता से आयोजित करेगा.’ Also Read - Kevin Pietersen का हिंदी में ट्वीट, बोले- ऑस्ट्रेलिया जीत का जश्न जरूर मनाएं, लेकिन असली टीम से सावधान

सौरव गांगुली मंगलवार को एक वर्चुअल मीडिया प्रोग्राम में उपस्थित थे. यहां उन्होंने बताया कि इंग्लैंड भारत दौरे पर 4 टेस्ट, 3 वनडे और 5टी20I मैचों की सीरीज खेलेगा. उन्होंने कहा कि इन मुश्किल हालात में अभी द्विपक्षीय सीरीज खेलना आसान है, बजाए कि 8-9 या 10 टीमों के साथ खेला जाए, लेकिन हमें स्थिति का आकलन करते रहना होगा.

उन्होंने कहा, ‘IPL 2020 की मेजबानी करने वाला यूएई इंग्लैंड के इस दौरे के लिए बैकअप स्थान के तौर पर रहेगा.’ उन्होंने कहा, ‘यह सिर्फ इंग्लैंड के दौरे के लिए नहीं बल्कि आईपीएल 2021 के लिए बैकअप में रहेगा क्योंकि उसकी शुरुआत भी इंग्लैंड दौरे के कुछ दिन बाद ही होगी.’