दोबारा सीने में दर्द की शिकायत के बाद हॉस्पिटल में भर्ती हुए सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के मेडिकल टेस्ट किए जा रहे हैं. इन टेस्ट की रिपोर्ट आने के बाद ही भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष गांगुली की ब्लॉक हुई धमनियों के इलाज पर कोई फैसला लेंगे. इस बीच गुरुवार शाम तक मशहूर हार्ट सर्जन डॉ. देवी शेट्टी भी कोलकाता पहुंच सकते हैं. वे गांगुली कि सभी मेडिकल रिपोर्ट देखने के बाद उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों के साथ मीटिंग कर उनकी एंजियोप्लास्टी पर फैसला लेंगे.Also Read - 'फोन उठाओ और एक दूसरे से बात करो': कपिल देव ने विराट कोहली-सौरव गांगुली को देश के बारे में सोचने की सलाह दी

48 वर्षीय गांगुली का इलाज कर रही पैनल में शामिल एक सीनियर डॉक्टर ने यह जानकारी दी. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान को मंगलवार देर रात सीने में बेचैनी की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी एंजियोग्राफी किए जाने की संभावना है. मेडिकल रिपोर्ट्स आने के बाद डॉक्टर इस पर फैसला लेंगे कि उन्हें अभी दूसरा स्टेंट डालना जरूरी है या नहीं. Also Read - कई लोगों ने कोहली के कप्तानी छोड़ने की बातें की हैं लेकिन मैं गॉसिप नहीं करना चाहता: रवि शास्त्री

डॉक्टर ने कहा, ‘गांगुली को बीती रात अच्छी नींद आई. उन्होंने सुबह हल्का नाश्ता किया. उनके कई टेस्ट आज होने हैं, जिसके बाद आगे के बारे में फैसला लिया जाएगा.’ इस डॉक्टर ने बताया, ‘एक बार जांच के नतीजे आने पर हम तय करेंगे कि उनकी धमनियों में अवरोध को हटाने के लिए दो स्टेंट डालने हैं या नहीं.’ Also Read - Virat Kohli के खिलाफ लोग हैं, उनसे कप्तानी छुड़वाई गई: Shoaib Akhtar

इस बीच उनके पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सुबह गांगुली को फोन करके उनका हाल चाल पूछा था, जबकि माकपा के वरिष्ठ नेता अशोक भट्टाचार्य भी अस्पताल पहुंचे थे. इसके अलावा केंद्रीय मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी उनकी सेहत का हालचाल पूछा है.

इनपुट: भाषा