भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नए अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) हमेशा से Day-Night टेस्ट मैच के पक्षधर रहे हैं. गांगुली का कहना है कि कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) भी अब डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने के लिए सहमत हैं.

French Open Badminton : क्वार्टर फाइनल में हारीं साइना नेहवाल

बांग्लादेश के खिलाफ अगले महीने होने वाली सीरीज के लिए टीम चुनने के उद्देश्य से गांगुली मुंबई में कोहली और उप-कप्तान रोहित शर्मा से मिले थे. ऐसा माना जा रहा है कि उन्होंने डे-नाइट के टेस्ट मैच खेलने के मुद्दे पर भी चर्चा की.

गांगुली ने ईडन गार्डन्स (Eden Gardens) में बंगाल क्रिकेट संघ (CAB) द्वारा उनके सम्मान मे आयोजित कार्यक्रम से इतर कहा,‘ मुझे कहना होगा कि विराट कोहली इसके लिए सहमत हैं. ऐसी खबरें हैं कि वह डे -नाइट टेस्ट नहीं खेलना चाहता हैं जो कि सहीं नहीं है. इसलिए एक बार जब टीम का कप्तान इससे सहमत हो जाता है, तो चीजें आसान हो जाती है. हम देखेंगे कि इसे कैसे आगे बढ़ा सकते हैं. खेल को आगे बढ़ाने की जरूरत है.’

पूर्व भारतीय कप्तान ने Pink Ball से टेस्ट मैच खेलने की वकालत की है जिससे अधिक से अधिक दर्शक मुकाबले का लुत्फ उठाने मैदान में पहुंचे.

मुश्किल दौर से गुजरने के बाद भी कप्तान बने रहने को प्रतिबद्ध फाफ डु प्लेसिस

बकौल गांगुली (Ganguly), ‘हम सभी इस बारे में विचार कर रहे हैं और कुछ करने की कोशिश करेंगे. डे-नाइट टेस्ट का समर्थक हूं. मुझे हालांकि नहीं पता कि ऐसा कब होगा. लेकिन जब तक मैं इस स्थिति में हूं, इसकी लिये कोशिश जारी रखूंगा.’

टीम इंडिया (IND vs BAN) और बांग्लादेश के बीच अगले महीने से दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी. हालांकि इससे पहले तीन टी-20 मैच खेले जाएंगे. गौरतलब है कि पहला डे-नाइट टेस्ट ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड (Australia v New Zeland) के बीच 2015 में खेला गया था।