मयंक अग्रवाल ने अपने छोटे टेस्ट कैरियर में ही शानदार प्रदर्शन करके सभी को प्रभावित किया है लेकिन भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का कहना है कि वह बतौर सलामी बल्लेबाज उसे पहली पसंद बताने से पहले कुछ समय इंतजार करेंगे.

पढ़ें:- डीन एल्‍गर ने बताया उन्‍होंने कैसे ढूंढ़ा भारतीय स्पिन गेंदबाजों का तोड़

पिछले साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के लिये पहला मैच खेलने वाले अग्रवाल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में पहले टेस्ट में 215 रन बनाये.

दुर्गा पूजा पांडाल के दर्शन को आए गांगुली ने कहा ,‘‘समस्या यह है कि हम बहुत जल्दी नतीजे निकालने लगते हैं.  एक शतक के बाद हम कहने लगते हैं कि वह सलामी बल्लेबाज के रूप में पहली पसंद है, लेकिन कुछ नाकामियों के बाद हमारी राय बदल जाती है.  इस चलन पर रोक लगनी चाहिये. ’’

उन्होंने कहा ,‘‘ किसी भी युवा खिलाड़ी का अच्छा खेलना भारतीय क्रिकेट के लिये अच्छा है.  उसने ऑस्ट्रेलिया में अच्छा प्रदर्शन किया.  वेस्टइंडीज में दिक्कत आई लेकिन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ प्रदर्शन शानदार रहा.  उसे एक साल खेलने दीजिये, फिर देखते हैं कि वह कितना अच्छा है. ’’

पढ़ें:- BCCI ने हरभजन सिंह को स्‍पष्‍ट कहा- अगर द 100 लीग खेलनी है तो

गांगुली ने यह भी कहा कि बतौर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के शानदार फाॅर्म का भारत को फायदा मिलेगा.  उन्होंने कहा ,‘‘रोहित को भी लगातार अच्छा खेलना होगा.  सलामी बल्लेबाज के रूप में यह उसका पहला ही मैच था.  रोहित शानदार खिलाड़ी है और उम्मीद है कि वह इस फाॅर्म को बरकरार रखेगा.  इससे भारत को फायदा मिलेगा. ’’

गांगुली ने विराट कोहली की बात से सहमति जताई कि रिधिमान साहा दुनिया का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर है.  उन्होंने कहा , ‘‘साहा हमारा अपना लड़का है.  वह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर है.  रिषभ भी सफल रहा है.  अब कोहली को तय करना है कि वह लंबे समय तक किसे खिलाना चाहते हैं . ’’