नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका के बाएं हाथ के स्पिनर तबरेज शम्सी (Tabraiz Shamsi) को लगता है कि टी-20 बल्लेबाजों का प्रारूप है जिसमें उनके जैसे गेंदबाज मैदान में आएं दर्शकों का मजा किरकिरा करते हैं. कलाई के इस स्पिनर ने भारत के खिलाफ मोहाली में दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान तीन ओवर में 19 रन देकर एक विकेट झटका और अब उनकी टीम चिन्नास्वामी स्टेडियम में श्रृंखला बराबर करने की कोशिश में जुटी है, जहां वह स्थानीय आईपीएल फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेलते थे.

शम्सी, दक्षिण अफ्रीका के लिए 17 वनडे और 15 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं. उन्होंने साक्षात्कार में कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इससे बल्लेबाजों पर और दबाव आता है कि वे मैदान में जाकर वही करें जिसे लोग देखना चाहते हैं. इसलिए बतौर गेंदबाज हम सिर्फ दर्शकों का मजा किरकिरा करने के लिए ही हैं और साथ ही यह सुनिश्चित करने के लिए भी कि हम अपनी योजना का कार्यान्वयन अच्छी तरह कर सकें. ’’

तीसरा और अंतिम टी-20 रविवार को चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा. शम्सी ने कहा, ‘‘चिन्नास्वामी छोटा स्टेडियम है और मेरा मतलब है कि यह टी-20 श्रृंखला है इसलिए लोग निश्चित रूप से यहां बल्लेबाजों को चौके और छक्के हिट करते हुए देखने के लिये पहुंचेंगे. लोग मैदान में आपको मेडन ओवर फेंकते हुए देखने के लिए नहीं हैं. टी-20 ऐसा ही क्रिकेट प्रारूप है.’’

इसी दौरान पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ शुक्रवार को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में रविवार को खेले जाने वाले तीसरे और अंतिम टी-20 मैच से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के प्रैक्टिस सेशन में नजर आए. भारत ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. धर्मशाला में होने वाला पहला टी-20 मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था और मोहाली में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में भारत ने शानदार जीत हासिल की थी.

India vs South Africa: तीसरे और आखिरी टी-20 मैच से पहले प्रैक्टिस सेशन में दिखे राहुल द्रविड़