दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में 107 रन से हारने के बाद इंग्लैंड टीम दूसरे मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में बदलाव कर सकती है। टीम के कोच क्रिस सिल्वरवुड ने इशारा किया है कि केपटाउन टेस्ट से तेज गेंदबाजों स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन में से किसी एक को बाहर बैठना पड़ सकता है।

मेहमान टीम पहले ही अपने खिलाड़ियों की बीमारी से भी परेशान है। कप्तान जो रूट समेत टीम के 10 खिलाड़ी बीमार पड़ चुके हैं। हाल ही में सलामी बल्लेबाज डॉमिनिक सिब्ले का नाम इस सूची में शामिल हुआ है। हालांकि स्पिनर जैक लीच अब ठीक हो चुके हैं।

कोच ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी को टीम कड़ा फैसला भी ले सकती है। सेंचुरियन में अपना 150वां टेस्ट खेले एंडरसन को मात्र दो विकेट मिले, जबकि ब्रॉड ने पांच विकेट हासिल किए।

शेन वार्न की सलाह पर नाथन लियोन का पलटवार, ‘क्या वो किसी और को मौका देने के लिए ब्रेक लेते? तो मैं क्यों करूं’

आईसीसी ने सिल्वरवुड के हवाले से लिखा है, “एंडरसन और ब्रॉड के रूप में हमारे पास बहुत अनुभव है और हम अगर उसे हर मैच में ना ले जाएं तो हमारी गलती होगी। लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपके युवा सामने आएं तो और अगर हमें स्पिनर के लिए जगह बनानी पड़ी तो हमें देखना होगा कि कौन सा तेज गेंदबाज पिच के मुताबिक ठीक रहेगा। अगर बड़ा फैसला लेने की जरूरत पड़ी तो हम पीछे नहीं हटेंगे।”

सेंचुरियन में इंग्लैंड ने ब्रॉड, एंडरसन समेत सभी तेज गेंदबाजों को खिलाया था। लेकिन दूसरा मैच न्यूलैंड्स स्टेडियम में होना है, जहां कि पिच स्पिनरों की मददगार मानी जाती है। ऐसे में लीच प्लेइंग इलेवन में जगह बना सकते हैं। कोच ने कहा, “हमें न्यूलैंडस में स्पिनर खिलने के बारे में सोचना होगा। हम अपना होमवर्क करके ही वहां जाएंगे।”