जोहान्सबर्ग: दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर एल्बी मोर्कल ने बुधवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा कर दी. एल्बी ने एक बयान में अपने 20 साल के करियर पर विराम लगाने की घोषणा की. उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के लिए एक टेस्ट, 58 वनडे और 50 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें क्रमश: 1, 50 और 26 विकेट अपने नाम किए. इसके अलावा 58, 782 और 572 रन भी बनाए. Also Read - IPL में बैटिंग सलाहकार की भूमिका निभाना चाहते हैं विनोद कांबली, कहा-युवाओं का कर सकता हूं मार्गदर्शन

Also Read - IPL 2021 : मेगा ऑक्शन में इन 3 खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है Chennai Super Kings, ये है वजह

37 वर्षीय एल्बी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा रह चुके हैं जहां वह 91 विकेटों के साथ टीम के तीसरे सर्वोच्च विकेट टेकर थे. वह अपने घरेलू टीम टाइटंस के भी कप्तान रह चुके हैं जिनके मार्गदर्शन में टीम ने खिताबी हैट्रिक लगाई है. Also Read - ऑस्ट्रेलिया दौरे पर ना चुने जाने के बाद सूर्यकुमार ने कप्तान रोहित से किया था ये वादा

टीम इंडिया अगर अगले आठ वनडे मैच जीत ले तो मिल सकती है ये बड़ी उपलब्धि

एल्बी ने ट्विटर पर लिखा, “क्रिकेट के मैदान से यह मेरे लिए उस सफर के समापन करने का समय है जो क्या शानदार रहा! मेरी जिंदगी के पिछले 20 साल शानदार रहे और इस दौरान कई अच्छी और बुरी यादें मेरे साथ हैं लेकिन मुझे लंबा करियर मिला.”

कोहली की टीम के फैन हुए सचिन तेंदुलकर भी, ऑस्‍ट्रेलिया में टेस्‍ट सीरीज जीतने के लिए इस खिलाड़ी को दिया श्रेय

मोर्कल ने 1999-2000 सीजन में घरेलू क्रिकेट में अपने करियर की शुरुआत की और फिर 2004 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा. उन्होंने अपने करियर में दक्षिण अफ्रीका और घरेलू टीम टाइटंस के अलावा चेन्नई सुपरकिंग्स, दिल्ली डेयरडेविल्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू, राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स, डर्बीशर, डरहम, समरसेट और सेंट लूसिया जुक्स जैसी टीमों के लिए मैच खेले.