नई दिल्ली : हॉकी विश्वकप 2018 का आयोजन भुवनेश्वर में हो रहा है. स्पेन और फ्रांस के बीच कलिंगा स्टेडियम में खेला गया मैच 1-1 से ड्रॉ रहा. ग्रुप-ए में खेले गए इस मैच में स्पेन के लिए अल्वारो इगलेसियास और फ्रांस के लिए टिमोथी क्लीमेंट ने गोल किया. जीत की इच्छा से आगे बढ़ने वाली टीम फ्रांस को अच्छी शुरुआत देते हुए टिमोथी क्लीमेंट ने छठे मिनट में गोल कर खाता खोला. इसके बाद वर्ल्ड नम्बर-20 फ्रांस ने पहले क्वार्टर की समाप्ति तक इस बढ़त को बनाए रखा.

पिछले मैच में अर्जेंटीना से हार का सामना करने वाली वर्ल्ड नम्बर-8 स्पेन अब भी स्कोर की बराबरी के लिए संघर्ष कर रही थी. दूसरे क्वार्टर में स्पेन को बराबरी का शानदार मौका मिला था लेकिन फ्रांस के गोलकीपर ने इसे बेहतरीन तरीके से नाकाम कर दिया. इसके साथ ही पहले हाफ का समापन हो गया, जिसमें फ्रांस ने स्पेन के खिलाफ अपनी बढ़त को बनाए रखा.

रोहित शर्मा को टेस्ट पहले तैयार कर रहे हैं कोच शास्त्री, एडिलेड में काम करेगा प्लान

तीसरे क्वार्टर में भी स्पेन खाली हाथ रहा. उसे इसमें पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल के मौके मिले लेकिन वह इन मौकों को भुना पाने में असफल साबित हुआ. चौथे क्वार्टर स्पेन के लिए भाग्य का साथ भी लेकर आया और आखिरकार उसे अपने संघर्ष का फल मिला. अल्वारो इगलेसियास ने 48वें मिनट में गोल करते हुए स्पेन का खाता खोल उसे फ्रांस के खिलाफ 1-1 से बराबरी पर ला खड़ा किया.

फ्रांस को इस दौरान पेनाल्टी स्ट्रोक मिला था लेकिन स्पेन के गोलकीपर के अच्छे प्रदर्शन के कारण वह इस शानदार मौके पर गोल स्कोर नहीं कर पाया और यह मैच अंत में बराबरी के स्कोर पर ही समाप्त हुआ.

AUSvsIND: टीम इंडिया के ये 3 बॉलर्स करेंगे ऑस्ट्रेलिया के लिए साबित होंगे खतरा

दोनों ही टीमें अपने पहले ग्रुप मैचों में खाता खोल पाने में नाकाम रहीं और इस कारण इस मैच के ड्रॉ होने से दोनों ने एक-एक अंक बांट लिए हैं. ऐसे में दोनों के पास तीसरे ग्रुप मैच के जरिए क्वार्टर फाइनल में स्थान हासिल करने का मौैका है. तीसरे ग्रुप मैच में फ्रांस का सामना छह दिसम्बर को अर्जेटीना से और स्पेन का सामना इसी दिन न्यूजीलैंड से होगा.