बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ पहले टी20 मैच में हार के बाद टीम इंडिया (Team India) ने राजकोट में जबरदस्त वापसी कर 8 विकेट से जीत हासिल की। दिल्ली टी20 में जहां भारत की गेंदबाजी की जमकर आलचोना हुई थी, वहीं राजकोट में भारतीय गेंदबाजों ने सभी को प्रभावित किया, खासकर कि स्पिन गेंदबाजों ने। मैच के बाद युवा स्पिनर वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने भी कहा कि टी20 फॉर्मेट में स्पिनर्स हमेशा ही अहम भूमिका में होते हैं।

राजकोट में जीत के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सुंदर ने कहा, “स्पिन गेंदबाज छोटे फॉर्मेट में अहम भूमिका निभाते हैं क्योंकि वो गेंद की गति कम करते हैं। और अक्सर पिच भी स्पिनर्स की मदद करती है। कुछ मैचों में आपको काफी मार भी पड़ेगी लेकिन वो इस फॉर्मेट में होता ही है।”

उन्होंने कहा, “यहां का विकेट काफी अच्छा थी। जिसमें गति और उछाल भी था, हमें लगा कि अगर वो पहले बल्लेबाजी करेंगे तो 180 रन पर्याप्त होंगे लेकिन उन्हें केवल 153 रन पर रोक पाना, बतौर गेंदबाजी यूनिट हमारा शानदार प्रदर्शन था।”

हार के बाद बांग्लादेशी कप्तान ने कहा- इस पिच पर 180 रन पर्याप्त होते

सुंदर ने आगे कहा, “उन्होंने (बांग्लादेश) अच्छी बल्लेबाजी की। हमें लगा कि इस विकेट पर स्पिनर्स की भूमिका अहम थी। हमने बीच के ओवरो में अच्छा प्रदर्शन किया और वापसी की। क्योंकि शुरुआती 6-7 ओवरों के बाद लग रहा था कि वो 170-180 रन बना लेंगे लेकिन हमारा बीच के ओवरों में विकेट निकालना अहम रहा।”

तमिलनाडु के इस ऑफ स्पिनर को उम्मीद है कि सीरीज के आखिरी मैच में भी इसी तरह की पिच मिलेगी। उन्होंने कहा, “हम नागुपर में भी इसी तरह के ट्रैक और बाउंड्री की उम्मीद कर सकते हैं और वो मैच भी जीतना होगा।”

सुंदर ने भारतीय टीम के सफल स्पिनर युजवेंद्र चहल की जमकर तारीफ की और उन्हें टीम का सबसे अहम हथियार बताया। उन्होंने कहा, “चहल टीम के लिए अहम है, जो कि बीच के ओवरों में गेंदबाजी कर सकते हैं और खेल का रुख बदल सकते हैं। वो वनडे और टी20 में ऐसा करते रहे हैं। उनके पास अनुभव है, उन्हें पता है कि बीच के ओवरों में विकेट लेने के लिए क्या करना होता। वो पावरप्ले में भी सफल है। वो जिस भी टीम के लिए खेलते हैं, उसके लिए अहम हैं।”

रोहित शर्मा: हाथ में बल्ला होने पर हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश की

गेंदबाजों के बांग्लादेश को 153 रन पर रोकने के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने बचा हुआ काम पूरा किया। रोहित ने शिखर धवन के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 118 रन की शानदार साझेदारी बनाई। अपना 100वां टी20 अंतरराष्ट्रीय खेल रहे रोहित ने मात्र 43 गेंदो पर 85 रन की मैच विनिंग पारी खेली।

कप्तान के बारे में सुंदर ने कही, “रोहित ने जो बाउंड्री लगाई वो अविश्वसनीय थी। मैं गेंदबाज के नजरिए से बोलूं तो बांग्लादेश ने कुछ अच्छी गेंदे कराई लेकिन वो (रोहित) आज शानदार लय में थे।”