इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कभी महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई वाली चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के हिस्सा रहे लेफ्ट आर्म स्पिन गेंदबाज शादाब जकाती ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा की है.Also Read - 'रोहित शर्मा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रिषभ पंत को निशाना बनाएंगे इंग्लैंड के गेंदबाज'

Year Ender 2019: बल्लेबाजों को पवेलियन लौटाने के मामले में बुमराह रहे फिसड्डी, कहर बनकर टूटा ये बॉलर Also Read - WATCH: कोच नहीं रोहित शर्मा ने कराई टीम इंडिया को फील्डिंग प्रैक्टिस, हंसते-हंसते खिलाड़ियों का हुआ बुरा हाल

घरेलू सर्किट में गोवा की ओर से खेलने वाले 39 वर्षीय जकाती ने इसकी जानकारी  अपने ऑफिशियल टिवटर हैंडल पर दी. शादाब ने आईपीएल में सुपरकिंग्स के अलावा गुजरात लॉयंस और रायल चैलेंजर्स बैंगलोर में भी अपनी सेवाएं दी. Also Read - Sri Lanka vs India, 3rd T20I: Wanindu Hasaranga का बड़ा कारनामा, Sachin Tendulkar की कर ली बराबरी

शादाब ने ट्वीट किया, ‘मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर रहा हूं. बीते एक साल से ज्यादा समय से मैं क्रिकेट नहीं खेल रहा था. यह फैसला लेना मेरे जीवन के अभी तक के सबसे मुश्किल कामों में से एक है. मैं इसके लिए बीसीसीआई और गोवा क्रिकेट का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं, जिन्होंने 23 साल तक मुझे मेरे सपने को जीने दिया.’

जोफ्रा आर्चर नो-बॉल विवाद पर फिलेंडर ने कहा- अंपायर्स को करना होगा सही फैसला वर्ना…


वर्ष 1998-99 में पंजाब के खिलाफ फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू करने वाले शादाब ने आईपीएल में कुल 59 मैच खेले और 47 विकेट अपने नाम किए.

92 फर्स्ट क्लास मैच खेले

जकाती ने अपने क्रिकेट करियर में 92 फर्स्ट क्लास मैचों में कुल 275 विकेट चटकाए जबकि 82 लिस्ट ए मैचों में 93 विकेट अपने नाम किए. 91 टी-20 मैचों में जकाती ने 73 विकेट अपने नाम किए.

बकौल जकाती, ‘ मेरे लिए आईपीएल में खेलना स्पेशल है। महेंद्र सिंह धोनी और मैथ्यू हेडन सहित अन्य के साथ खेलना गर्व की बात रही.’

जकाती ने 2010 आईपीएल के फाइनल में चेन्नई की ओर से खेलते हुए मुंबई इंडियंस के बल्लेबाज मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को आउट किया था. उस लम्हे को याद करते हुए जकाती ने कहा, ‘ उस विकेट ने हमें खिताब जिताने में मदद की। मेरे लिए वो लम्हा बेहद स्पेशल रहा.’