पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर और टीम के मौजूदा स्पिन गेंदबाजी कोच मुश्ताक अहमद ने शुक्रवार को कहा कि खिलाड़ियों ने कोरोनोवायरस महामारी के मद्देनजर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा लगाए गए नए नियमों का अच्छी तरह से जवाब दिया है। पाकिस्तान की टीम अगस्त-सितंबर में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज और इतने ही मैचों की टी 20 सीरीज खेलने के लिए इस समय इंग्लैंड में है। Also Read - Schools Colleges Reopening News: इन राज्यों में 21 सितंबर से खुलेंगे स्कूल और यहां रहेंगे बंद, पैरेंट्स की होगी ये जिम्मेदारी

मेहमान टीम इस समय 14 दिन के अपने आइसोलेशन अवधि में है। आइसोलेशन अवधि पूरा करने के बाद उन्हें अभ्यास करने की अनुमति दी जाएगी। टीम 13 जुलाई को डर्बीशायर जाएगी। Also Read - रिपोर्ट में हुआ खुलासा, कोरोना महामारी के चलते लोगों की मेंटल हैल्थ पर पड़ा है बुरा असर

मुश्ताक ने पीसीबी डॉट कॉम डॉट पीके से कहा, “कोविड-19 की चुनौतियों के बावजूद खिलाड़ी अब तक असाधारण रहे हैं। हम उन्हें प्रोटोकॉल से रूबरू कराने की कोशिश कर रहे हैं और उन्होंने शानदार तरीके से इसका जवाब दिया है। नए नियमों के साथ भी खिलाड़ी गेंद को चमकाने की कोशिश कर रहे हैं।” Also Read - Coronavirus in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में नहीं थम रही कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में सामने आए 3842 नए मरीज, 17 की मौत

उन्होंने कहा, “ऐतिहासिक रूप से, स्पिनरों ने गेंद को चमकाने के लिए लार का उपयोग किया है अब उन्हें संशोधित आईसीसी नियमों में नए तरीके सिखाए जा रहे हैं। मुझे वास्तव में खुशी है कि खिलाड़ी और स्पोर्ट स्टाफ टीम के लक्ष्यों और उद्देश्यों पर एक साथ काम कर रहे हैं। मुझे यकीन है कि खिलाड़ी पूरी तरह से जागरूक होंगे और नई चुनौतियों के लिए तैयार रहेंगे।”