खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Kiren Rijiju) ने रविवार को दिए बयान में कहा कि बीसीसीआई (BCCI) को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के आयोजन की इजाजत भारत सरकार के कोरोना वायरस से प्रभावित हालातों को नियंत्रण में लाने के बाद ही दी जाएगी। रिजिजू ने कहा कि आईपीएल तब ही होगा जब लोगों के स्वास्थय को कोई खतरा नहीं होगा।Also Read - ICC T20 Men's Team Of The Year: ICC ने चुने तीन पाकिस्तानी खिलाड़ी, भारत से कोई नहीं, Babar Azam कप्तान

उन्होंने कहा, “भारत में, सरकार को इस पर फैसला करना होगा और ये इस बात पर निर्भर करेगा कि हम महामारी की स्थिति पर कैसे नियंत्रण करते हैं और बतौर देश कैसे आगे बढ़ते हैं। फिलहाल हम देशवासियों के स्वास्थ्य को सिर्फ इसलिए खतरे में नहीं डाल सकते क्योंकि हमे खेल प्रतियोगिता का आयोजन करना है। हमारा ध्यान कोविड-19 के खिलाफ लड़ने पर है।” Also Read - तीनों फॉर्मेट में आसानी से ढलने की क्षमता जसप्रीत बुमराह को बेहतरीन गेंदबाज बनाती है: एलेन डोनाल्ड

बीसीसीआई फिलहाल अक्टूबर-नवंबर के बीच आईपीएल का आयोजन करने पर विचार कर रही है। हालांकि टी20 विश्व कप का आयोजन भी अक्टूबर-नवंबर महीने में ही आयोजित होना है। ऐसे में इन दोनों में से किसी एक टूर्नामेंट का ही आयोजन हो सकेगा। Also Read - BBL 2022: पाकिस्तान के युवा तेज गेंदबाज के बॉलिंग एक्शन पर उठे सवाल, अब लाहौर में होगा टेस्ट

आईपीएल या टी20 विश्व कप में से कौन सा टूर्नामेंट खेला जाएगा और किसे रद्द किया जाएगा, इसे लेकर फिलहाल कुछ स्पष्ट नहीं है। बीसीसीआई के लिए आईपीएल बेहद अहम टूर्नामेंट है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के नजरिए से विश्व कप ही सबसे बड़ा टूर्नामेंट होता है।

हालांकि कोरोनावायरस महामारी के नियंत्रण में आने से पहले दोनों में से किसी टूर्नाेमेंट का आयोजन नहीं हो सकता है। इसलिए फिलहाल फैंस को केवल इंतजार करना होगा।