Sports News Today February 2, New Zealand v India 2020, 5th T20I, Mount Maunganui: भारतीय क्रिकेट टीम के न्यूजीलैंड दौरे को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे थे. माना जा रहा था कि टीम इंडिया के लिए मेजबान के खिलाफ उसके घर में सीरीज आसान नहीं रहने वाली है. लेकिन कोहली एंड कंपनी ने अब तक जिस तरह का प्रदर्शन टी20 सीरीज में किया है वो काबिलेतारीफ है. Also Read - IPL 2021, Sunrisers Hyderabad vs Kolkata Knight Riders, 3rd Match: हैदराबाद की 10 रन से हार, जानिए KKR की जीत की 5 बड़ी वजह

चौथे टी20 में रोमांचक जीत दर्ज करने वाली भारतीय टीम पर लगा जुर्माना Also Read - IPL 2021, CSK vs DC: अर्धशतक जड़ रोहित-विराट की बराबरी पर आए Suresh Raina, डेविड वार्नर सबसे आगे

भारत ने मौजूदा सीरीज में लगातार दो मैच सुपर ओवर में जीते हैं. सीरीज के पहले मैच में मुश्किल परिस्थितियों में श्रेयस अय्यर ने 29 गेंदों पर नाबाद 58 रन की पारी खेली थी. दूसरे टी20 मैच में ओपनर रोहित शर्मा का विकेट जल्दी गंवाने के बाद अय्यर और केएल राहुल ने सूझबूझ के साथ बेहतरीन साझेदारी कर टीम इंडिया की नैया को पार लगाया. Also Read - IPL 2021: CSK vs DC Match Highlights: दिल्ली से यूं हारी चेन्नई सुपर किंग्स, तस्वीरों में देखें मैच का हाल

ICC U19 World Cup 2020: भारत-पाकिस्तान के बीच 4 फरवरी को होगा ‘महामुकाबला’, जानिए किसका पलड़ा है भारी

इसके बाद मेहमान भारत ने लगातार दो मैच सुपर ओवर में जीतकर पांच मैचों की सीरीज में 4-0 की बढ़त बना ली है. भारतीय टीम 5वां और अंतिम मैच भी जीतकर मेजबान टीम का ‘क्लीनस्वीप’ करना चाहेगी. यदि टीम इंडिया मेजबान का सफाया करने में सफल रही तो वह 5 मैचों की टी20 सीरीज जीतने वाली दुनिया की पहली टीम बन जाएगी.

भारतीय टीम 5वें टी20 में इस प्लेइंग इलेवन के साथ माउंट मानुंगेई के बे ओवल मैदान में उतर सकती है:-

संजू सैमसन: रोहित शर्मा को पांचवें टी20 में भी आराम दिया जा सकता है और उनकी जगह संजू सैमसन को खुद को साबित करने के लिए एक और मौका मिल सकता है. कप्तान कोहली की मानें तो सैमसन टॉप ऑर्डर में निडर होकर बल्लेबाजी कर सकते हैं. बेशक सैमसन चौथे टी20 में जल्दी आउट हो गए हों बावजूद कोहली को लगता है कि यह विकेटकीपर जल्द बड़ी पारी खेल सकता है.

केएल राहुल : मौजूदा सीरीज में केएल राहुल ने बल्ले से अब तक धमाकेदार प्रदर्शन किया है. टीम इंडिया दो अन्य स्पेशलिस्ट विकेटकीपर को इस मैच में उतार सकती है लेकिन विकेट के पीछे की जिम्मेदारी केएल के कंधों पर ही रहेगी.

विराट कोहली : कोहली ने मौजूदा सीरीज के सभी मैचों में अब तक बेहतरीन शुरुआत की है लेकिन वह उसे बड़ी पारी में तब्दील करने में असफल रहे हैं. सुपर ओवर में खिंचे चौथे टी20 में कोहली ने विनिंग चौका लगाकर टीम को शानदार जीत दिलाई थी. ऐसे वह अंतिम टी20 में बड़ी पारी खेलने को बेताब होंगे.

श्रेयस अय्यर : श्रेयस अय्यर ने इस सीरीज में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर टीम में अपनी जगह पक्की कर ली है. श्रेयस को टीम मैनेजमेंट और कप्तान का सपोर्ट है. उन्होंने शुरुआती दो टी20 मैचों में मैच विनिंग पारी खेली.

मनीष पांडे : चौथे मैच में मनीष पांडे के नाबाद अर्धशतक की बदौलत भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ सम्मानजनक स्कोर खड़ा कर पाई. मिडिल ऑर्डर में पांडे खुद को साबित करने की कोशिश की है. ऐसे में उन्हें प्लेइंग इलेवन में बरकरार रखा जा सकता है.

रिषभ पंत: इस युवा विकेटकीपर बल्लेबाज को प्लेइंग इलेवन में कई बार लगातार मौके मिले लेकिन रिषभ रन बनाने में असफल रहे. इसके बाद उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर किया गया है. मौजूदा दौरे पर वह अब तक एक मैच भी नहीं खेल पाए हैं. रिषभ को 5वें टी20 में खिलाया जा सकता है ताकि वह खुद को साबित कर सकें.

वाशिंगटन सुंदर: चौथे टी20 में बेंच स्ट्रेंथ को आजमाने के लिए रवींद्र जडेजा की जगह वाशिंगटन सुंदर को मौका दिया गया था. टीम इंडिया उन्हें एक और मैच में मौका दे सकती है.

शार्दुल ठाकुर : चौथे टी20 के फाइनल ओवर के हीरो शार्दुल ठाकुर को अंतिम मैच में भी खिलाया जा सकता है. ऐसे में मोहम्मद शमी को इस मैच में भी आराम दिए जाने की संभावना है. दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज ने हार्दिक पांड्या की गैरमौजूदगी में खुद को बैकअप गेंदबाज के रूप में विकल्प दिया है.

कुलदीप यादव: लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को शुरुआती 4 टी20 में मौका दिया गया है. हालांकि उन्होंने इस दौरान बेहतरीन गेंदबाजी की है. लेकिन बेंच स्ट्रेंथ को आजमाने के लिए चहल की जगह चाइनामैन कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जा सकता है.

जसप्रीत बुमराह: चोट के बाद वापसी करने वाले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी में वो पैनापन नजर नहीं आ रहा जिसके लिए वो जाने जाते हैं. बावजूद इसके उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर करने की उम्मीद कम है.

नवदीप सैनी: चौथे टी20 में पेसर नवदीप सैनी ने गेंद से प्रभावित किया था. उन्हें विराट कोहली का सपोर्ट है. सैनी में लगातार विकेट चटकाने की क्षमता है.