Sports News Today 27 February: भारतीय क्रिकेट टीम की युवा बल्लेबाज शेफाली वर्मा मौजूदा आईसीसी महिला टी20 विश्व कप में लगातार अपना जलवा बिखेर रही हैं. शेफाली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ गुरुवार को मेलबर्न में खेले गए 9वें लीग मैच में ताबड़तोड़ पारी खेल अपने नाम एक खास उपलब्धि दर्ज कर ली. 16 साल की इस खिलाड़ी की आक्रामक पारी के दम पर भारत ने न्यूजीलैंड को 4 रन से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया. शेफाली को उनकी दमदार पारी के लिए लगातार दूसरी बार ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया. Also Read - क्रिकेट फैंस के लिए खुशखबरी, सितंबर में खेले जाएंगे IPL मैच!

IPL 2020: डेविड वॉर्नर को फिर मिली सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी Also Read - पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर Stuart MacGill का हुआ था अपहरण!

इस मुकाबले में शेफाली ने 34 गेंदों पर 46 रन की पारी खेली जिसमें 4 चौके और 3 छक्के शामिल थे. मौजूदा टूर्नामेंट में शेफाली ने अब तक 3 मैचों में 172.7 की स्ट्राइक रेट से कुल 114 रन जुटाए हैं जिसमें 11 चौके और 8 छक्के शामिल हैं. तीन पारियों में शेफाली का टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ स्ट्राइक रेट है. Also Read - भारत में ही खेला जाएगा T20 World Cup, इन 5 शहरों में होंगे मुकाबले!

ओवरऑल करियर स्ट्राइक रेट के मामले में शेफाली ने नया रिकॉर्ड बनाया है. शेफाली ने अब तक टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 147.97 की स्ट्राइक रेट से कुल 438 रन बनाए हैं. महिला टी20 इंटरनेशनल में अपने करियर में किसी भी बल्लेबाज ने 200 से ज्यादा रन इतनी तेज गति से नहीं बनाए हैं. हरियाणा की शेफाली ने इस दौरान दक्षिण अफ्रीका की चोले ट्रियोन और ऑस्ट्रेलिया की अलीसा हीली को पीछे छोड़ा है. ट्रियोन ने 138.31 की स्ट्राइक रेट से 722 रन बनाए हैं हीली ने 129.66 की स्ट्राइक रेट से 1875 रन जुटाए हैं.


EPLT20 : नेपाल की घरेलू टी20 लीग के शेड्यूल जारी, क्रिस गेल पर होगी सबकी नजर

शेफाली की प्रशंसा ने आईसीसी ने भी की है. भारत ने बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद 8 विकेट पर 133 रन बनाए. शेफाली के अलावा तानिया भाटिया ने 23 गेंदों 25 रन बनाए. भारत ने अनुशासित गेंदबाजी कर कीवी टीम को 6 विकेट पर 129 रन पर रोक दिया और मौजूदा टूर्नामेंट में लगातार तीसरी जीत दर्ज कर अपना अजेय अभियान जारी रखा. भारतीय टीम 3 मैचों से 6 अंक लेकर ग्रुप ए में टॉप पर है. उसने अपने पिछले दो मैचों में मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश को पराजित किया.